Latest News

बुलंद हो रहा खेत पर मेड़, मेड़ पर पेड़ का नारा

जखनी गांव के किसान अपनी मेहनत से कर रहे परंपरागत खेती 
आदर्श गांव बनाने के लिए लगातार की जा रही है मेहनत 

बांदा, कृपाशंकर दुबे । जखनी के किसान धरती मां के पुजारी हैं संकल्प पत्र है बगैर सरकार की मदद के अपनी मेहनत से पानी पलायन किसानी को परंपरागत तरीके से समुदाय के आधार पर अपने गांव को आदर्श गांव बनाने में प्रयासरत हैं। यह विचार गजेंद्र सिंह अखिल भारतीय सह संगठन मंत्री भारतीय किसान संघ ने जखनी में कही। उन्होंने कहा कि तालाब के किनारे किसानों ने अपने खलिहान में हजारों कुंतल धान जो बासमती का है, इस बात का प्रमाण है कि जखनी के किसान मेहनती संकल्प वान है और यह उनकी मेहनत का परिणाम है
जखनी गांव में मौजूद अखिल भारतीय सह संगठन मंत्री भारतीय किसान संघ गजेंद्र सिंह व अन्य 
जखनी के किसानों का नारा खेत पर मेड मेड पर पेड भविष्य में बड़े प्रणाम लाएगा हमें सरकार के भरोसे नहीं राज समाज को साथ लेकर समुदाय का आधार पर इस गांव के किसानों की भांति प्राकृतिक आपदा से लड़ने के लिए काम करना होगा। इस अवसर पर अखिल भारतीय किसान संघ के कानपुर प्रांत के संगठन मंत्री छोटे लाल ने कहा कि हम सबको मिलकर परंपरागत तरीके से उपलब्ध संसाधनों से समाज के उत्थान के लिए काम करना होगा जैसा जख्मी के किसानों ने किया गोपाल गौ सेवा ट्रस्ट के अध्यक्ष डीके सिंह ने कहा कि संपन्न किसान गौ माता की सेवा के लिए आगे आए गौ माता पृथ्वी माता गंगा माता जन्म जाने वाली मां का कर्ज है समाज पर इस अवसर पर किसान संघ के जिला मंत्री कमलेश संगठन के लिए समर्पित बजरंग विद्यालय के शिक्षक देशराज सिंह गजेंद्र त्रिपाठी जखनी गांव के किसान मौजूद थे। सभी किसानों ने राष्ट्रीय सह संगठन मंत्री से अनुरोध किया कि बासमती का समर्थन मूल दिलाने का प्रयास करें गजेंद्र सिंह तालाबों पर गए खेतों की मेड़ों पर जल जल प्रबंधन वृक्षारोपण खुद किसानों ने अपने पैसे से किया है। 

No comments