Latest News

कीट व्याधि से फसल को बचाने के उपाय बताये डाॅ सोनकर ने

हमीरपुर, महेश अवस्थी । वैज्ञानिक डाॅ एसपी सोनकर ने किसानों के खेत में तकनीकी सलाह देते हुये कहा कि मौजूदा समय में मौसम में उतार-चढ़ाव हो रहा है। ऐसी स्थिति में कीट व्याधि का प्रकोप अधिक होगा। फसल को बचाने के लिये निरन्तर निगरानी रखें तभी गुणवत्तायुक्त उत्पादन मिल पायेगा। वे कुरारा के विकासखण्ड के बरूआ मजरा में कृषि प्रसार तकनीकी को बढ़ावा तकनीकी को बढ़ावा देने के लिये किसानों के प्रक्षेत्रों के भ्रमण के दौरान समसामयिक तकनीकी ज्ञान, त्वरित खेत में हस्तानान्तरित करने पर बोल रहे थे। उन्होंने रवि और

करन के खेत का सघन निरीक्षण कर अरहर की फसल के बारे में बताया कि पत्तियों में जाल बना हुआ है। दो-तीन पत्तियां आपस में चिपकी हैं, जिसमें अण्डा व छोटी इल्ली है। इसे किसान देखकर दंग रह गये कि जब फसल में नष्ट में फलियां बनती हैं तो यही फलियों को खा जाती हैं जिससे किसान का उत्पादन कम होता है। उसे आर्थिक क्षति होती है। उन्होंने पत्ती लपेटक और फलि वेधक कीड़ा की रोकथाम के लिये मोनोक्रोटोफास 36 ईसी 1.25 एमएल प्रतिलीटर की दर से छिड़काव करने को कहा। उन्होंने किसानों से कहा कि पराली किसी भी दशा में न जलायें। शासन व प्रशासन के आदेशों की अवहेलना करने पर ऐसे किसानों के खिलाफ मुकदमा दर्ज होगा। पराली के समाधान और समायोजन के लिये कई महत्वपूर्ण टिप्प दिये।

No comments