Latest News

जबरदस्त ठंड से मासूम समेत दो की मौत

हवाओं में गलन की वजह से ठिठुर उठे लोग 
अलाव तापकर किसी तरह ठंड से बचाव कर रहे लोग 
जबरदस्त कोहरे की आगोश में रहा आसमान 
गुनगुनी धूप खिलने पर लोगों को ठंड से मिली कुछ राहत 


बांदा, कृपाशंकर दुबे । दिसंबर माह के आखिरी दिनों में पड़ रही कड़ाके की ठंड ने लोगों को बेजार करके रख दिया है। कोहरे की धुंध और ठंडी हवाओं के झोकों ने गलन में इजाफा कर दिया। ठंड की चपेट में आकर मासूम समेत दो लोगों की मौत हो गई। दोनो की मौत से परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल हो गया। रोते-बिलखते परिजन शव लेकर घर चले गए। अब तक ठंड से एक दर्जन लोगों की मौत हो चुकी है। 
अलाव जलाकर ठंड से बचाव करते लोग 
जबरदस्त ठंड ने लोगों का दम डिगाना शुरू कर दिया है। भोर होते ही कोहरे की धुंध आसमान को आगोश में ले रही है। पानी की गिर रही टिप-टिप बूंदों से भी ठंड में इजाफा हो रहा है। सर्द हवाओं ने तो ठंड में इजाफा किया ही है। शहर के नोनिया मोहाल निवासी चुन्नी देवी (55) पत्नी देवीदीन बुधवार को शाम घर पर बैठी थी। तभी उसे ठंड लग गई। तबियत बिगड़ते देख परिवारजनों द्वारा उपचार का तमाम प्रयास किया। घर वाले उसे लेकर जिला अस्पताल आए। यहां उपचार के दौरान कुछ ही देर में उसने दम तोड़ दिया। इसी तरह महोबा जिले के ग्योड़ी गांव निवासी सुदेश कुमार के एक माह के पुत्र प्रकाश को दो दिन पहले ठंड ने जकड़ लिया। घर वालों ने पहले तो उसका घरेलू उपचार किया। गांव के एक चिकित्सक के यहां भी उपचार कराया। हालत में सुधार न होने पर उसे जिला अस्पताल लेकर आए। गुरुवार को सुबह यहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। मासूम की मौत से घर वालों में कोहराम मच गया। परिजन शव लेकर घर चले गए। गौरतलब है कि जिले में अब तक ठंड से एक
कोहरे की धुंध के बीच आवागमन करते लोग 
दर्जन लोगों की मौत हो चुकी है। मौसम विभाग के अनुसार शीतलहरी अभी जारी रहेगी। ठंड से पीड़ित होने पर कई लोगों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। शहर कोतवाली क्षेत्र के तिंदवारा गांव निवासी बांस बाबू (35) पुत्र संतोष को ठंड ने जकड़ लिया। हालत बिगड़ने पर परिजनों ने उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया। हालत नाजुक बताकर चिकित्सकों ने उसे कानपुर रेफर कर दिया। अतर्रा क्षेत्र के सेमरिया गांव निवासी राम प्रकाश (50) पुत्र देवीदीन को गुरुवार की सुबह घर में ठंड लग गई। हालत बिगड़ने पर घर वालों ने उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया। इसी तरह क्योटरा निवासी चंपा सविता (26) पत्नी अशोक को ठंड ने जकड़ लिया। शहर के क्योटरा निवासी मुन्नी देवी (65) पत्नी जगदीश, शंकर नगर निवासी गोविंद (2) पुत्र श्याममूरत, बाबा तालाब निवासी डोरन लाल (32) पुत्र कोदवा और झाम लाल (21) पुत्र अशादी को ठंड ने चपेट में ले लिया। हालत बिगड़ने पर घर वालों ने उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया। शीतलहर का प्रकोप लगातार जारी है। कड़ाके की ठंड से जनजीवन अस्त-व्यस्त है। ठंड की चपेट में आकर सात लोगों की हालत बिगड़ गई। सभी को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। ठंड और गलन से लोगों की मुश्किलें लगातार बढ़ती जा रही हैं। सुबह कोहरे की चादर तनने लगी है। साथ ही ठंडी हवाओं से तापमान में गिरावट जारी है। बढ़ती सर्दी से आम जनजीवन प्रभावित होने लगा है। 

No comments