Latest News

राष्ट्रीय महिला आयोग सदस्य ने की समीक्षा बैठक

पीड़ित महिला, बेटियों को मिले त्वरित मदद 

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। राष्ट्रीय महिला आयोग सदस्य डा राजुलबेन एल देसाई की अध्यक्षता में केन्द्र व प्रदेश सरकार से संचालित महिला एवं बाल विकास योजनाओं की समीक्षा बैठक संपन्न हुई। उन्होंने कहा कि आमजन को जागरुक करने की जरूरत है।

बुधवार को कलेक्ट्रेट सभागार में राष्ट्रीय महिला आयोग की सदस्य ने कहा कि बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ योजना महत्वपूर्ण है। बेटियों को जागरुक करने की जरूरत है। मेरी बेटी, मेरा अभिमान के तहत जनपद स्तर पर स्कूल, कालेजों में बेटियों व अभिभावकों को बुलाकर वादविवाद प्रतियोगिता, स्लोगन पेंटिंग व खेलकूद पर बढ़ावा दिया जाए। बेटियों को छोटी सी छोटी उपलब्धि पर सम्मानित करें। जिससे मनोबल बढ़े। बीएसए को निर्देश दिए कि विद्यालयों पर विभिन्न कार्यक्रमों से बेटियों को मजबूत बनायें। जिलाधिकारी शेषमणि पाण्डेय ने कहा कि जनपद स्तर पर बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओं के लिए अभियान चलाकर वाल पेटिंग व जागरुकता कार्यक्रम हुए हैं। सदस्य ने कहा कि सखी व स्टाप सेंटर योजना के तहत गांव की महिला सखी समस्याग्रस्त महिलाओं की मदद करेगी। सभी अधिकारी यह ध्यान दें कि पीड़ित महिला व बेटियों को त्वरित मदद मिले। जिला प्रोबेशन अधिकारी रामबाबू विश्वकर्मा को निर्देश दिए कि योजना में तेजी लायें। मातृत्व वंदना योजना पर डा सुरभि ने कहा कि इस माह अभियान चलाकर कार्य कराने की योजना बना ली गई है। उन्होंने महिला हेल्पलाइन, निराश्रित महिला, मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना, सामूहिक विवाह आदि योजनाओं की समीक्षा कर निर्देशित किया है। नीति आयोग के सूचकांकों पर कई बिन्दुओं पर जनपद में अच्छा कार्य हुआ है। कहा कि जिन बिन्दुओं में कमी हो उसमें प्रगति लायें। इस मौके पर एसपी अंकित मित्तल, सीडीओ डा महेन्द्र कुमार, एडीएम जीपी सिंह, बीएसए प्रकाश सिंह आदि मौजूद रहे।


No comments