Latest News

सपाईयों ने धरना देकर प्रदेश सरकार को जमकर कोसा

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। समाजवादी पार्टी के प्रांतीय आवाहन पर उन्नाव में बीती रात गैंगरेप आरोपियों द्वारा जलाई गई पीड़िता की मृत्यु के मामले को लेकर सपाईयों ने धरना दिया। विरोध जताते हुए कहा कि उप्र में गुण्डाराज कायम है। ऐसे में सरकार को त्याग पत्र देना चाहिए। 
शनिवार को सपा के जिलाध्यक्ष अनुज यादव की अगुवाई में दर्जनों सपाईयों ने मुख्यालय के तहसील परिसर में धरना देकर प्रदेश सरकार को जमकर कोसा। जिलाध्यक्ष ने कहा कि गैंगरेप पीड़िता को जिंदा जलाया गया। जिसके बाद इलाज के दौरान मृत्यु हो गई। कहा कि मौजूदा समय में प्रदेश में गूंगी और बहरी सरकार है।

महिलाओं केे साथ रेप, छेडखानी, उत्पीडन की घटनायें आम हो गई है। सरकार पर हाथ पर हाथ रख तमाशा देख रही है। महिला सुरक्षा की कोई गारंटी नहीं दी जा रही। सत्ता का राजनैतिक दबाव इस कदर है कि अपराधी बेखौफ है। पुलिस महकमा को बौना कर दिया है। आरोप लगाया कि 90 प्रतिशत आपराधिक लोगों से लैस सरकार को सत्ता में रहने का कोई अधिकार नहीं है। इस दौरान दो मिनट का मौन धारण कर उन्नाव की रेप पीड़िता दिवंगत बेटी की आत्मा की शांति को ईश्वर से प्रार्थना की। इस मौके पर अनिल शर्मा, गौरीशंकर ेमिश्रा, गुलाब खा, अनिल प्रधान, भरत दिवाकर, नरेन्द्र यादव, फूलचन्द्र करवरिया, राजीव लोचन त्रिपाठी, राधेश्याम यादव, मंगल यादव, चीनी भाई, सकीला बानो आदि मौजूद रहे।

No comments