Latest News

भारत बचाओ रैली में जनपद से जायेंगे छह सौ से अधिक कार्यकर्ता- अखिलेश

भाजपा सरकार की दमनकारी नीतियों का कांग्रेसी डटकर करेंगे मुकाबला

फतेहपुर, शमशाद खान । भाजपा सरकार की दमनकारी नीतियों का कांग्रेस पार्टी द्वारा हर स्तर पर विरोध करने के साथ ही सरकार के विरोध में 14 दिसम्बर को दिल्ली के रामलीला मैदान में होने वाली रैली में जनपद से छह सौ से अधिक कार्यकर्ता शामिल होने के लिये जायेंगे। उक्त बातें कांग्रेस जिलाध्यक्ष अखिलेश पाण्डेय में पत्रकारों से वार्ता के दौरान कही।
पत्रकारों से बातचीत करते कांग्रेस जिलाध्यक्ष अखिलेश पाण्डेय।  
सोमवार को बुलेट चैराहा स्थित जिला कांग्रेस कमेटी कार्यालय में पत्रकारों से बातचीत करते हुए जिलाध्यक्ष अखिलेश पाण्डेय ने बताया कि राष्ट्रीय नेतृत्व के आह्वान पर भारतीय जनता पार्टी सरकार की दमनकारी नीतियों के विरोध में चैदह दिसम्बर को दिल्ली के रामलीला मैदान में भारत बचाओ रैली का आयोजन किया जा रहा है। रैली में भाग लेने के लिये प्रत्येक विधानसभा से 10 वरिष्ठ सदस्यों को प्रत्येक को दस कार्यकर्ताओ को अपने साथ रैली में ले जाने की जिम्मेदारी दी गयी है। श्री पाण्डेय ने बताया कि रैली को लेकर सभी विधानसभाओं में पार्टी कार्यकर्ता द्वारा जनमानस को सरकार की नाकामी बताने को पोस्टर-बैनरों के अलावा पम्पलेट वितरण करने के साथ वालपेंटिंग का कार्य कराया जा रहा है। रैली में शामिल होने को कार्यकर्ता तीन बसों के अलावा ट्रेन में रिजर्वेशन एवं निजी साधनों के जरिये धरनास्थल तक पहुंचेगे और रैली को सफल बनाने में सहयोग देंगे। उन्होंने उन्नाव कांड को लेकर कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा प्रदेश सरकार के विरुद्ध प्रदर्शन करने पर कार्यकर्ताओं के ऊपर मुकदमा लिखे जाने को बेहद दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए कहा कि कांग्रेस कार्यकर्ता प्रशासन की करवाई से डरने की जगह डटकर मुकाबला करेंगे। उन्होंने प्रशासन से दर्ज मुकदमा वापस लिए जाने की मांग किया। वहीं अन्य दलों को छोड़कर कांग्रेस पार्टी में आस्था जताते हुए एक दर्जन से अधिक युवाओ ने कांग्रेस पार्टी का दामन थामा। जिन्हें जिलाध्यक्ष अखिलेश पाण्डेय द्वारा सदस्यता दिलाये जाने के उपरांत कांग्रेस पार्टी की पट्टी पहनाकर स्वागत किया गया। इस मौके पर वरिष्ठ अधिवक्ता सन्तोष कुमारी शुक्ला, सुधाकर अवस्थी, श्रवण कुमार गौड़, शिवाकांत तिवारी, आशीष गौड़ समेत बड़ी संख्या में कार्यकर्ता मौजूद रहे।

No comments