Latest News

एक दिन के चेयरमैन पर सभासद हुए लामबंद

पालिकाध्यक्ष मोहन साहू पर संवैधानिक अधिकारों के दुरुपयोग का आरोप 
जिलाधिकारी को ज्ञापन देकर सभासदों ने कार्रवाई की मांग की 

बांदा, कृपाशंकर दुबे । नगर पालिका अध्यक्ष मोहन साहू ने सभासद अनवर अली को एक दिन का चेयरमैन बनाया था। इस दौरान चेयरमैन ने बाकायदा अपने काम को अंजाम दिया। यह मामला तूल पकड़ गया है और नगर पालिका के तमाम सभासदों ने जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपते हुए मांग की है कि चेयरमैन मोहन साहू ने संवैधानिक अधिकारों का दुरुपयोग किया है। इस प्रकरण की जांच कराते हुए योग्य व्यक्ति को पालिका के वित्तीय अधिकार दिए जाएं। 
जिलाधिकारी को ज्ञापन देने आए नगर पालिका सभासद
शनिवार को नगर पालिका के सभासद राजेश सिंह गौतम, मोहम्मद युसुफ फरीदी, अजय गुप्ता, जानकी, मौला बक्श, रामरूप सिंह यादव, राकेश गुप्ता, शब्बीर खां, गीता, बसंती, शांति देवी, संदीप कुमार, नीरज त्रिपाठी, बसंती, संजना नायक, गीता यादव, अब्दुल रज्जाक, महेंद्र सिंह यादव, उर्मिला देवी आदि ने जिलाधिकारी कार्यालय के बाहर चेयरमैन के खिलाफ प्रदर्शन किया। बाद में सभासदों ने दो पृष्ठीय हस्ताक्षर युक्त ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा। इसमें कहा है कि नगर पालिका चेयरमैन मोहन साहू ने स्वयं के आदेश पर सभासद अनवर अली को अध्यक्ष पद का कार्यभार सौंपा था। यह नगर पालिका अधिनियम व विधान सभा की अवमानना की श्रेणी में आता है। चेयरमैन ने प्रदेश सरकार की छवि को धूमिल करने का काम किया है। बताया कि चेयरमैन द्वारा दिए गए आदेश के मुताबिक उनका कार्यकाल एक दिन के लिए समाप्त हो गया। नगर पालिका अधिनियम व नियमों के मुताबिक वह दोबारा चेयरमैन का कार्यभार दोबारा नहीं ग्रहण कर सकते। सभी सभासद स्वेच्छा से अनवर अली को नगर पालिका का चेयरमैन नियुक्त करते हैं। सभासदों का कहना है कि चेयरमैन द्वारा किए गए आदेश से संवैधानिक संकट खड़ा हो गया है। मांग की कि सरकार सर्वप्रथम चेयरमैन के सभी वित्तीय अधिकार निरस्त कर इस प्रकरण की गंभीरता से जांच कराए। इसके बाद नगर पालिका अध्यक्ष पद के लिए योग्य व्यक्ति को वित्तीय अधिकार दिलाए जाएं। 

No comments