Latest News

हिन्दू-मुस्लिम एकता का प्रतीक ग्राम गुलौली का दंगल


  • मथुरा के पहलवान विश्वजीत को अपराजेय घोषित कोई नहीं कर सका पराजित
  • पूर्व विधायक प्रतिनिधि सुरेन्द्र व वरिष्ठ पत्रकार नरेन्द्र तिवारी ने किया उद्घाटन


कालपी (जालौन)। कालपी क्षेत्र के ग्राम गुलौली में हुये प्रदेश स्तरीय दंगल में मथुरा के पहनवान विश्वजीत की भिड़त गौरखपुर के अब्दुस पहलवान के बीच शानदार मुकाबला में विश्वजीत अपराजेय घोषित किये गये। युवा चेहरा विश्वजीत को कोई भी पहलवान पराजय नहीं कर सका।

     अंतर्राज्जीय स्तरीय दंगल का आयोजन ग्राम गुलौली के पूर्व प्रधान हातिम बेग, पोला बेग, जमतुर बेग तथा वर्तमान प्रधान लल्लू बेग सहित गांव के प्रमुख सामाजिक कार्यकर्ताओं द्वारा पिछले कई वर्षो से आयोजित होता चला आ रहा है साम्प्रदायिक सद्भाव का प्रतीक यह दंगल हर वर्ष होता है। दंगल के दूसरे दिन का उद्घाटन कालपी क्षेत्र के पूर्व विधायक प्रतिनिधि सुरेन्द्र सरसेला एवं वरिष्ठ पत्रकार नरेन्द्र कुमार तिवारी ने फीता काट कर किया तथा पहलवानों का हाथ मिलाकर परिचय किया इस दंगल में प्रमुख कुश्ती बिन्दकी के मोनू एवं हरेन्द्र सिंह हरियाणा, राधेश्याम भिण्ड तथा अजय पाल इटावा, अतुल जालौन एवं बन्टी अलीगढ़, राहुल आगरा तथा अजय हरियाणा के बीच शानदार कुश्तियां हुयी इस दो दिवसीय प्रदेश स्तरीय दंगल में लगभग 50 कुश्तियां हुयी जिसमें सबसे मंहगी कुश्ती पांच हजार भी हुयी। इस दंगल में कानपुर, फतेहपुर, आगरा, कुरारा, हमीरपुर, महोबा, हरियाणा, जालौन, बराबंकी सहित कई जनपदों के जांबाज पहलवानों ने अपनी शानदार कुश्ती का प्रदर्शन किया। प्रदेश स्तरीय दंगल में कालपी क्षेत्र के पूर्व विधायक प्रतिनिधि ने कहा कि कुश्ती प्रतियोगिताओं से युवा वर्ग में उत्तम स्वास्थ्य बनाये रखने की प्रेरणा मिलती है। साथ ही ग्रामीणों में मेल मिलाप की भावना उत्पन्न होती है। दो दिवसीय दंगल में कालपी क्षेत्र कि सैकड़ों गांवों के दर्शकगणों ने आकर पहलवानों का उत्साह बर्धन किया। दंगल कमेटी की ओर से पूर्व प्रधान हातिम बेग एवं वर्तमान प्रधान लल्लू बेग ने फूल मालायें पहिना कर अतिथियों का स्वागत किया।

No comments