भीषण ठण्ड से कपकपाये जनपदवासी, धूप रही बेअसर - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Advt.

Advt.

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Sunday, December 29, 2019

भीषण ठण्ड से कपकपाये जनपदवासी, धूप रही बेअसर

सड़कों पर दिखा सन्नाटा, टीवी के सहारे कटा दिन 
गर्म कपड़ों से ढके दिखाई दिये जरूरतमंद
ट्रेनों की लेटलतीफी से यात्रियों को उठानी पड़ी परेशानी 

फतेहपुर, शमशाद खान । दिसम्बर माह समाप्त होने में सिर्फ दो दिन ही शेष रह गये हैं। नये साल की शुरूआत भी होने वाली है। लेकिन मौसम का मिजाज दिनों दिन और बिगड़ता जा रहा है। लुढ़कते हुए पारे की चाल ने लोगों की दिनचर्या पूरी तरह से प्रभावित कर दी हे। भीषण ठण्ड से जनपदवासी रविवार को कपकपाते हुए दिखाई दिये। सड़कों पर पूरी तरह से सन्नाटा पसरा रहा। घरों में दुबके लोगों का दिन टीवी व उपकरणों के सहारे ही कटा। बाजार व सडकों पर लोग गर्म कपड़ों से ढके हुए दिखाई दिये। भीषण ठण्ड व कोहरे के चलते ट्रेनों की लेटलतीफी से सबसे अधिक यात्रियों को दिक्कतों का सामना करना पड़ा। नगर पालिका प्रशासन द्वारा जलवाये जा रहे अलाव भी लोगों के लिए नाकाफी साबित हो रहे हैं। लेकिन कुछ हद तक ठण्ड से राहगीरों को राहत भी दिलाने का काम कर रहे हैं। 
ठण्ड से बचने के लिए अलाव का सहारा लेते लोग।
पहाडी इलाकों में लगातार हो रही बर्फबारी से मौसम का मिजाज बिल्कुल बदल गया है। दिसम्बर का समाप्त होते-होते तापमान में लगातार गिरावट आती जा रही है। शनिवार को न्यूनतम तापमान 04 डिग्री से0 दर्ज किया गया था। रविवार को तापमान में 01 डिग्री से0 की गिरावट और दर्ज की गयी। जिसके चलते लोगों का घरों से निकलना मुश्किल हो गया है। सुबह से ही भीषण ठण्ड का लोगों का एहसास हुआ। मार्गों पर पूरी तरह से सन्नाटा पसरा दिखाई दिया। स्कूलों में छुट्टी होने के चलते बच्चों को कुछ राहत जरूर मिली। रविवार होने के चलते सरकारी कार्यालय भी बंद रहे। अधिकतर लोग घरों पर ही कैद दिखाई दिये। घरों पर टीवी व गर्म हवा देने वाले उपकरणों के सहारे ही लोगों का दिन कटा। इस भीषण ठण्ड में अब बचाव के साधन भी लोगों के लिए नाकाफी साबित हो रहे हैं। जरूरी कामकाज के लिए बाहर निकलने वाले लोग अपने आपको पूरी तरह ढक कर ही निकल रहे हैं। इसके बावजूद ठण्ड उनके शरीर को नहीं छोड़ रही है। अब लोगों के मुंह से बस यही निकल रहा है कि हाय ठण्ड कम जाओगी। उधर रात्रि में शीत लहर के कारण हाड कपाऊ ठण्ड होने से यात्रियों को सबसे अधिक दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। कोहरे व ठण्ड के चलते सभी ट्रेने अपने निर्धारित समय से लेट चल रही हैं। स्टेशन व रोडवेज बस स्टाप में इंतजाम भी नाकाफी हैं। थोड़ी सी लकड़ी के सहारे ही लोग पूरी-पूरी रात गुजारने पर विवश हो रहे हैं। प्रशासन द्वारा कोई खास इंतजाम अब तक नहीं किये गये। कोहरे के कारण हाइवे में दौडने वाले वाहनो पर ब्रेक लग गया है। पड रही ठण्ड से जहा जनमानस बेहाल है तो पशु पक्षी भी ठण्ड से व्याकुल है। ठण्ड का प्रकोप अब गरीब व बेसहारा लेागों को अपनी चपेट में ले रहा है। जिले में अब तक कई लोगों की ठण्ड से मौत हो चुकी हैं।

ठण्ड लगने से दो की मौत 
फतेहपुर। जनपद में पिछले एक सप्ताह से पड़ रही कड़ाके की ठण्ड जहां जनजीवन अस्त-व्यस्त है। वहीं शाम होते ही लोग अपने-अपने घरों में दुबक जाते हैं। ठण्ड का कहर लोगों के बीच लगातार जारी है। जिले में ठण्ड के कारण अब तक कई मौते हो चुकी हैं। इसी क्रम में जनपद के दो अलग-अलग थाना क्षेत्रों के अन्तर्गत दो लोगों की ठण्ड लगने से मौत हो गयी। 
जानकारी के अनुसार सकठपुर हिम्मतपुर निवासी बबली का पुत्र मोहन कल रात लगभग आठ बजे खाना खाने के बाद अपने कमरे में बैठा था। तभी अचानक उसे तेज ठण्ड लगने लगी। इसकी जानकारी जब परिजनों को हुयी तो उपचार के लिए जिला चिकित्सालय लाने लगे। तभी घर में ही उसकी मौत हो गयी। वहीं घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर विच्छेदन गृह भेज दिया। उधर जहानाबाद थाना क्षेत्र के ग्राम कुल्लीहार निवासी गोपी पुत्र रघुनंदन 48 वर्ष रात्रि अपने खेतों में पानी लगाए था। पानी लगाकर वापस आने पर उसको ठण्ड लगने लगी। परिजनों ने आग जलाकर तपाया लेकिन हालत में सुधार न हुआ। परिजन उसको लेकर कस्बे के एक निजी चिकित्सालय गए। जहां पर डॉक्टरों ने ठंड का प्रकोप बताते हुए दवाएं दी। लेकिन शनिवार की देर रात्रि गोपी की मौत हो गई। मौत होने के बाद परिजनों में शोक की लहर दौड़ गई। गांव वालों ने बताया कि ठंड लगने से मौत हुई है।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages