Latest News

देश को बांटने का काम कर रही भाजपा सरकार: नसीमुद्दीन

पूर्व मंत्री ने एनआरसी व सीएए कानून को लेकर साधा सरकार पर निशाना

बांदा, कृपाशंकर दुबे । कांग्रेस एडवाइजरी कमेटी के सदस्य नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने एनआरसी व सीएए कानून की आड़ में देश व प्रदेश की सरकारों पर जमकर निशाना साधा। कहा कि भाजपा की सरकार देश को विभाजन के रास्ते पर ले जाने का काम कर रही है। उन्होेंने देश में जाति व मजहब के नाम पर कानून बनाने को संविधान विरोधी कदम बताते हुए सरकार से कानून वापस लेने की मांग की। 

पत्रकारों से मुखातिब नसीमुद्दीन सिद्दीकी, साथ में कांग्रेस जिलाध्यक्ष राजेश दीक्षित 
पूर्ववर्ती बसपा सरकार में करीब दो दर्जन महत्वपूर्ण विभागों का जिम्मा संभालने वाले पूर्व मंत्री व वर्तमान में कांगे्रस के सलाहकारों की टीम में एमएलसी नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने नागरिकता संशोधन एक्ट को देश के लोगों को जाति, मजहब, धर्म व संप्रदाय के नाम बांटने वाला काला कानून बताया। कहा कि भाजपा सरकार अपनी नाकामियों को छिपाने के लिए ऐसा काला कानून लेकर आई है, जिसका समूचा देश विरोध कर रहा है। विरोध प्रदर्शन को दमनकारी नीतियों की दम पर दबाने के कुचक्र को पूर्व मंत्री ने भाजपा की दोहरी नीति का हिस्सा बताया। कहा कि पूरे देश में धारा 144 लागू करके जहां कानून का विरोध करने वालों की आवाज को दबाने का प्रयास किया जा रहा है, वहीं दिल्ली भाजपा के अध्यक्ष भेजपुरी गायक अपने हजारों समर्थकों के साथ कानून की खूबियां गिनाते हैं। उन्होंने भाजपा की इस दोहरी व दमनकारी नीति को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि भाजपा की काली करतूतों का सीधा असर देश की वैश्विक छवि पर पड़ रहा है और विश्व के करीब आधा सैकड़ा देशों ने अपने नागरिकों को भारत आने से रोक दिया है। उन्होंने उप्र पुलिस पर निशाना साधते हुए कहा कि भीड़ को उकसाने का काम प्रदेश की पुलिस कर रही है और चंद समाज विरोधी तत्वों को माहौल खराब करने का अवसर दे रही है। उन्होंने समाज के सभी धर्मांे व वर्गों के लोगों से शांति बनाए रखने और गांधीवादी तरीके से काले कानून का विरोध करने की अपील की। कहा कि सरकारी संपत्ति का नुकसान सीधा जनता का नुकसान होता है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी समेत समूचा विपक्ष इस कानून के वापस होने तक विरोध दर्ज कराता रहेगा। 

No comments