Latest News

बांदा जेल तिनका-तिनका नेशनल एवार्ड से हुई सम्मानित

जेल में चलाए जा रहे सुधार कार्यक्रमों के तहत मिला सम्मान 

सम्मानित बांदा जेल के अधिकारीगण

बांदा। जेल में निरुद्ध बंदियों को सही दिशा में ले जाने के लिए जिस तरह से सुधार कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है, उससे प्रभावित होकर समाजसेवी डा. वर्तिका नंदा की संस्था ने बांदा जेल को तिनका-तिनका नेशल एवार्ड से सम्मानित किया है। आजीवन कारावास की सजा काट रही महिला बंदी संध्या सिंह द्वारा बनाया गया कपड़े का झोला और उनकी लेखनी को जहां सराहा गया वहीं पुरुष बंदियों की कारगुजारियों को भी पुरस्कार से नवाजा गया। 

मीडिया से रूबरू होते हुए जिलाधिकारी हीरालाल ने कलेक्ट्रेट में जेल अधीक्षक आरके सिंह को शुभकामनाएं दीं। इसके साथ ही डीएम ने लगातार कारागार में सुधार कार्यक्रमों को संचालित करने के की बात कही। कहा कि आगामी प्रस्तावित कार्यक्रमों की श्रंखला में जेल के अंदर गौशाला बनाकर गौवंश का संरक्षण किया जाएगा। साथ ही कैदियों को प्रशिक्षण के माध्यम से खेती व उद्यानीकरण से जुड़ने को प्रेरित किया जाएगा। डीएम ने कहा कि सपना देखने वाले ही जीवन में आगे बढ़ पाते हैं और बिना लक्ष्य निर्धारण के कोई भी मंजिल तक पहुंच नहीं सकता। डीएम ने बताया कि जिले में पर्यटन को गति देने के लिए बाम्बेश्वर पहाड़ की चोटी को सूर्य दर्शन स्थल के रूप में विकसित किया जा रहा है। बताया कि 12 दिसंबर को यहां खिचड़ी भेज का आयोजन करके वह इस अभियान की शुरुआत करेंगे। 


No comments