दुष्कर्मियों को दी जाए फांसी की सजा - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Advt.

Advt.

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Tuesday, December 10, 2019

दुष्कर्मियों को दी जाए फांसी की सजा


  • विश्वकर्मा शिल्पकार महासभा ने मुख्यमंत्री को भेजा ज्ञापन 


ज्ञापन सौंपते विश्वकर्मा शिल्पकार महासभा के पदाधिकारीगण 

बांदा। मंगलवार को अखिल भारतीय विश्वकर्मा शिल्पकार महासभा के पदाधिकारियों ने कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन किया और दुष्कर्म की घटना की निंदा की। मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन में पदाधिकारियों ने कहा है कि दुष्कर्म के आरोपियों को फांसी की सजा दी जाए। इसके साथ ही पीड़ित परिवार को एक करोड़ रुपए की आर्थिक मदद उपलब्ध कराई जाए। 

महासभा पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं ने अखिल भारतीय विश्वकर्मा शिल्पकार महासभा जिलाध्यक्ष रामबाबू विश्वकर्मा (पड़ुई) के नेतृत्व में उन्नाव रेप और हत्याकांड के विरोध में जोरदार प्रदर्शन किया। जुलूस की शक्ल में नारेबाजी करते हुए पदाधिकारी और कार्यकर्ता नारेबाजी करते हुए कलक्ट्रेट पहुंचे। जिलाधिकारी कार्यालय के बाहर देर तक धरना प्रदर्शन किया। जिलाध्यक्ष ने कहा कि उन्नाव में बलात्कार पीड़िता को जिंदा जलाने की घटना बेहद निंदनीय है। इस तरह की घटनाएं समाज के माथे पर कलंक है। उन्होंने उन्नाव में हुई घटना के लिए प्रदेश सरकार की लापरवाही और लचर कानून व्यवस्था को दोषी ठहराया। कहा कि उन्नाव कांड को लेकर समाज क्षुब्ध और आक्रोशित है। लोगों में भय व्याप्त है। समाज की महिलाएं खुद को असुरक्षित महसूस कर रही हैं। इस घटना की महासभा कड़े शब्दों में निंदा करती है। धरना-प्रदर्शन के बाद मुख्यमंत्री को संबोधित तीन सूत्रीय ज्ञापन सिटी मजिस्ट्रेट प्रदीप कुमार सिंह को सौंपकर रेप और हत्याकांड के दोषियों को फांसी की सजा, पीड़ित परिवार को एक करोड़ रुपये की आर्थिक मदद तथा परिवार को सुरक्षा आदि की मांग की। प्रदर्शन और ज्ञापन देने वालों में कामता प्रसाद, दयाराम, कामता प्रसाद, केपी विश्वकर्मा, शिवदास विश्वकर्मा, कल्लू विश्वकर्मा, छक्की लाल विश्वकर्मा, घनश्याम विश्वकर्मा, मन्नू, मनोज कुमार आदि मौजूद रहे। 

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages