Latest News

विदेशी कम्पनियों के आने से रिटेल व्यापार होगा बर्बाद- सुमंत गुप्ता

फतेहपुर, शमशाद खान । खुदरा व्यापार में वालमार्ट जैसी विदेशी कम्पनियों के आने से रिटेल व्यापार व कारोबारी बर्बाद हो जायेंगे। यह बात अखिल भारतीय वैश्य एकता परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष डा0 सुमन्त गुप्त ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कही। 
परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष डा0 सुमंत गुप्त ने कहा कि राष्ट्रीय अर्थव्यवस्था में घरेलू व्यापार का 70 प्रतिशत योगदान है। खुदरा व्यापार भारत का सबसे बड़ा निजी उद्योग है। देश के समस्त घरेलू उत्पाद का जीडीपी में लगभग 60 प्रतिशत योगदान है। देश का रिटेल व्यापार लगभग 12 लाख करोड़ रूपये है। रिटेल की लगभग 500
पत्रकारों से बातचीत करते राष्ट्रीय अध्यक्ष डा0 सुमन्त गुप्त। 
करोड़ से भी अधिक छोटी बड़ी दुकाने हैं। देश में ब्राण्डेड रिटेल मार्केट 6.5 लाख डालर का है। इस व्यापार में करोड़ों लोग कामगार के रूप में कार्यरत है। असंगठित क्षेत्र का 70 प्रतिशत रिटेल बाजार रिटेलरांे के पास है। खुदरा व्यापार में वालमार्ट जैसी विदेशी कम्पनियों के आने से रिटेल के कारोबारी बर्बाद हो जायेंगे। भारत दुनिया का सबसे आकर्षक रिटेल बाजार है व तेजी से बढ़ती हुई ई-कामर्स क्षेत्र में आॅनलाइन बाजार में वालमार्ट द्वारा कब्जा करने का प्रयास है। खुदरा बाजार पर नियंत्रण स्थापित करने की योजना है। जिससे छोटे, मझोले व मध्यम स्तर का रिटेल व्यापारी बर्बाद हो जायेगा। वालमार्ट पहले छूट देता है फिर छोटे उद्योगों की कमर तोड़ देता है। उन्होने सरकार से मांग की कि जीएसटी व वाणिज्य कर में पंजीकृत व्यापारी की बीमा राशि 50 लाख सहायता के रूप में दिये जायें। इस मौके पर राष्ट्रीय महासचिव विनोद कुमार गुप्त, प्रदेश उपाध्यक्ष वेद प्रकाश गुप्त, राष्ट्रीय अध्यक्ष संतोष गुप्त, प्रदेश उपाध्यक्ष नरेन्द्र गुप्त, प्रदेश उपाध्यक्ष ट्रेडर्स अमित शरन बाबी, नगर अध्यक्ष संतोष गुप्त, युवा जिलाध्यक्ष शैलेन्द्र शरन सिम्पल, अनिल गुप्त आदि मौजूद रहे।

No comments