Latest News

अवैध खनन से ध्वस्त हो रही किसानों की फसले

भाकियू ने जिलाधिकारी को ज्ञापन देकर उठाई कार्यवाही की मांग
पैलानी तहसील के केन व चन्द्रावल नदी में हो रहा अवैध खनन

बांदा, कृपाशंकर दुबे । पैलानी तहसील क्षेत्र के केन व चन्द्रावल नदी में बालू माफियाओं द्वारा अवैध खनन किया जा रहा है। जिससे किसानों की फसले बर्बाद हो रही है। ट्रकों की धमाचैकड़ी से किसानों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। गुरूवार को भाकियू ने जिलाधिकारी को ज्ञापन देकर मामले की जांच कराकर अवैध खनन बंद कराये जाने की मांग की है।
ज्ञापन सौंपते भारतीय किसान यूनियन के पदाधिकारी 
डीएम को सम्बोधित ज्ञापन उप जिलाधिकारी पैलानी को देते हुये भाकियू के जिलाध्यक्ष बलराम तिवारी ने बताया कि तहसील पैलानी अन्तर्गत केन व चन्द्रावल नदी में अवैध खनन व ओवरलोडिंग जोरों पर चल रही है। ट्रकों की धमाचैकड़ी से किसानों की फसले नष्ट हो रही है। रास्ते पूरी तरह से ध्वस्त हो गये है। जिससे आये राहगीर गिरकर चुटहिल हो रहे है। बताया कि बालू माफियाओं द्वारा चन्द्रावल नदी में जलधारा रोंककर अवैध मिट्टी का पुल बनाया गया है। जिससे ट्रकों का आवागमन हो रहा है। बीते 17 दिसम्बर को उपजिलाधिकारी पैलानी को अवगत कराया गया। लेकिन कोई कार्यवाही नही हुई। जिससे बालू माफियाओं के हौसले बुलन्द है। उन्होने मांग की है कि चन्द्रावल नदी पर बने अवैध पुल को हटवाकर जलधारा बहाल कराई जाये तथा ओवरलोडिंग पर लगाम लगाई जाये। अन्यथा की स्थिति में भारतीय किसान यूनियन आन्दोलन के लिये बाध्य होगा। इस दौरान बैजनाथ अवस्थी, साकेत सिंह, विनोद कुमार, महेन्द्र सिंह आदि लोग उपस्थित रहे।

No comments