धन्नी में लटकता मिला किशोरी का शव, पिता पर हत्या का आरोप - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Sunday, December 8, 2019

धन्नी में लटकता मिला किशोरी का शव, पिता पर हत्या का आरोप

भतीजों को जायदाद देना चाहता था पिता

फतेहपुर, शमशाद खान । थरियांव थाना क्षेत्र के रसूलपुर मजरे सचैली में एक किशोरी का शव उसके ही घर के कमरे में धन्नी पर लटका मिलने से क्षेत्र में सनसनी फैल गयी। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। उधर मृतका की मां ने पिता पर ही हत्या का आरोप मढ़ते हुए कहा कि पिता भतीजों को अपनी जायदाद देना चाह रहा था। इसी वजह से उसने पुत्री की हत्या की है। मां ने पिता के खिलाफ थाने में तहरीर दी। उधर पुलिस का कहना है कि तहरीर मिली है। जांच कर कार्रवाई की जायेगी। 
घटनास्थल पर लगी ग्रामीणों की भीड़।  
जानकारी के अनुसार रसूलपुर मजरे सचैली गांव निवासी राम आसरे की 15 वर्षीय पुत्री रोशनी उर्फ रेशमा शनिवार की रात खाना-पीना खाकर कमरे में सो रही थी। वहीं कमरे के बाहर बरामदे में पिता राम आसरे सो रहा था। जब सुबह कमरे का दरवाजा नहीं खुला तो परिजनों को चिन्ता हुयी और दरवाजा तोड़ा गया। धन्नी में रेशमा का शव लटका देख सभी हक्का-बक्का रह गये। सूचना पाकर पहंुची पुलिस ने शव को फंदे से उतरवाकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। इस घटना को लेकर लोगों के बीच तरह-तरह की चर्चाओं का बाजार गर्म है। सूत्रों के अनुसार अर्द्धरात्रि कुछ अज्ञात लोग घर में घुसे और किशोरी के साथ दुष्कर्म किया और उसकी हत्या करके शव को धन्नी पर लटका दिया। जिससे यह घटना आत्महत्या का रूप ले ले। उधर मृतका रेशमा की मां लीलावती निवासी ग्राम हरदासपुर थाना हथगाम ने बताया कि उसके व रामआसरे के बीच अक्सर विवाद होता था। इसलिए पन्द्रह वर्ष पूर्व वह राम आसरे को छोड़कर चली गयी थी। उसने बताया कि उसकी पुत्री कभी-कभी उससे मिलने आया करती थी। पिता अपनी जायदाद भतीजों को देना चाहता था। लेकिन जायदाद में उसकी पुत्री रोड़ा बनी थी। जिसके चलते पिता ने भतीजों के साथ मिलकर उसकी पुत्री की हत्या करके शव को फंदे पर लटका दिया है। उधर पुलिस उपाधीक्षक केडी मिश्रा ने कहा कि मृतका रेशमा की मां ने पिता पर हत्या का आरोप लगाते हुए पुलिस को तहरीर दी है। पूरे घटनाक्रम की जांच कराकर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जायेगी। हत्यारे किसी भी सूरत में बक्शे नहीं जायेंगे। 

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages