Latest News

किसान दिवस: समस्या निदान को किया आश्वस्त

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। जिलाधिकारी शेषमणि पाण्डेय की अध्यक्षता में किसान दिवस का आयोजन कलेक्ट्रेट सभागार में किया गया।
जिलाधिकारी ने पशु चिकित्सा अधिकारी को निर्देश दिए कि पशु नस्ल सुधार कराएं तथा बधियाकरण अधिक से अधिक हो। किसानों से कहा कि यहां पिछले वर्ष 15 हजार अन्ना पशु थे। आज लगभग 300 गौशाला का संचालन किया जा रहा है। जिसमें लगभग 30 हजार गोवंश संरक्षित है जो प्रदेश में सबसे अधिक है। निर्माण की व्यवस्था के लिए पैसा अलग से नहीं है। ग्राम पंचायतों के द्वारा कराया जा रहा है। उसमें भी शासन से जो
ज्ञापन सौपते भाकियू पदाधिकारी।
समस्याएं थी उसका समाधान कराया गया है। ग्राम प्रधान व सचिव मिलकर गौशाला का संचालन कर रहे हैं। मौसम खराब होने के कारण समस्याएं हुई और बेहतर समस्या का निस्तारण किया जाएगा। आप लोगों का सहयोग जरूरी है प्रशासन का सहयोग करें। जब तक आम जनमानस का सहयोग नहीं मिलेगा तब तक इस समस्या का निदान नहीं होगा। प्रधानों को आगे लाकर अन्ना गोवंश को बांधे। किसी भी दशा में पराली न जलाएं। जहां पर अधिक पराली है तो उसे गौशालाओं पर रखवाएं। ताकि बेसहारा गोवंशों के खाने के काम आए। नए पंचायत वार मेगा कैंप लगाने का कार्य किया जाएगा। चिल्लीमल पंप कैनाल की नहरों की साफ सफाई कराई जा रही है। किसान भी देखें कोई समस्या हो तो अवगत कराएं। कृषकों से कहा कि विद्युत विभाग की योजनाओं का लाभ लें। 31 दिसंबर तक 24 किश्तों में बिल का भुगतान किया जाना है उसका लाभ उठाएं। जिलाधिकारी ने डिप्टी आरएमओ को निर्देश दिए कि केंद्रों में सभी धानों की खरीद होना चाहिए। कहीं से कोई समस्या नहीं हो। कृषि एप के अधिकारियों को निर्देश दिए कि धान क्रय केंद्र खंडवा क्यों बंद था उस कर्मचारी के खिलाफ कार्यवाही की जाए। जनपद में किसानों को किसी भी प्रकार की समस्या नहीं होने दिया जाएगा। मुख्य विकास अधिकारी डा महेंद्र कुमार ने कहा कि अन्ना प्रथा पर पिछले वर्ष रबी की फसल को बचाया गया है। इस वर्ष काफी गौशालाओं का संचालन किया जा रहा है। किसान यूनियन के जिला अध्यक्ष राम सिंह पटेल ने किसानों की तमाम समस्याओं का ज्ञापन सौपा है। इस पर जिलाधिकारी ने सभी संबंधित अधिकारियों को समस्याओं का निस्तारण करने के निर्देश दिए है। बैठक में संबंधित अधिकारी व किसान मौजूद रहे।

No comments