उन्नाव रेप पीड़िता की मौत के बाद सपाईयों ने दिया धरना - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Advt.

Advt.

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Saturday, December 7, 2019

उन्नाव रेप पीड़िता की मौत के बाद सपाईयों ने दिया धरना

सीएम से इस्तीफा मांग दस करोड़ का मुआवजा दिये जाने की उठायी आवाज

फतेहपुर, शमशाद खान । हैदराबाद की घटना का दर्द अभी लोग भूले नहीं थे कि एक बार फिर हृदय विदाक घटना सबके सामने आ गयी। उन्नाव जनपद में रेप पीड़िता को दरिन्दों ने जिन्दा जला दिया। शनिवार की सुबह उसकी सांसे थम गयी। पीड़िता की मौत होते ही समूचे प्रदेश में आक्रोश की ज्वाला फूट पड़ी। इस मामले में समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देशन में जिले के सपाईयों ने कलेक्ट्रेट पर धरना देकर सरकार से इस्तीफा मांगते हुए रेप पीड़िता के परिवार को दस करोड़ का मुआवजा व दोषियों को फांसी की सजा दिये जाने की आवाज उठायी। 

कलेक्ट्रेट पर धरना देते सपाई।  
समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष सुरेन्द्र सिंह यादव के नेतृत्व में सपाई कलेक्ट्रेट पहुंचे और उन्नाव रेप पीड़िता की हत्या के मामले में धरना देकर प्रदेश सरकार को जमकर कोसा। वक्ताओं का कहना रहा कि हैदराबाद की घटना का दर्द लोग भूल भी नहीं पाये थे कि हैवानियत का नंगा नाच एक बार फिर देखने को मिल रहा है। उन्नाव जनपद की एक रेप पीड़िता पेशी पर रायबरेली जाने के लिए ट्रेन पकड़ने बैसवारा बिहार स्टेशन जा रही थी। गौरा मोड़ पर गांव के पास उसके साथ गैंग रेप करने वाले आरोपी शिवम त्रिवेदी व शुभम त्रिवेदी ने उसे घेर लिया। कुल पांच लोगों ने लाठी-डण्डांे से हमला कर दिया। इतना ही नही उसके गले पर चाकू भी मारा। जब वह जमीन पर गिर गयी तो उसके शरीर पर पेट्रोल डालकर आग लगा दी। उपचार के दौरान दिल्ली के सफदरगंज अस्पताल में उसकी सांसे थम गयी। इस घटना ने यह साबित कर दिया है कि प्रदेश में अब कानून का राज नहीं बल्कि जंगल राज कायम हो गया है। वक्ताओं ने कहा कि प्रदेश सरकार विरोध करने वालों की आवाज भी दबाने का काम कर रही है। लेकिन आवाज दबने वाली नहीं है। पीड़ित को न्याय दिलाकर ही दम लिया जायेगा। सपाईयों ने मुख्यमंत्री से इस्तीफे की मांग करते हुए दोषियों को फांसी की सजा व पीड़ित परिवार को दस करोड़ का मुआवजा दिये जाने की आवाज उठायी। इस मौके पर पूर्व जिलाध्यक्ष वीरेन्द्र यादव, निवर्तमान नगर अध्यक्ष नफीस उद्दीन, चैधरी मंजर यार, निर्मल यादव, योगेन्द्र याव, रवीन्द्र याद व, शिवशंकर यादव, बृजेश सोनी, शकील अहमद गोल्डी, कामता प्रसाद कार्यालय प्रभारी, तनवीन हैदर नकवी, राहत, वीरेन्द्र तिवारी, अरूण यादव, मयंक यादव, शाहनवाज आलम, पवन द्विवेदी, सुनील उमराव, शिव विक्रम सिंह, प्रेमनाथ विश्वकर्मा, राम किशोर प्रजापति, शमशाद अहमद, नईम अहमद, राम बहादुर यादव, शेरा यादव, रामू रैदास सभासद, जेपी यादव, पप्पू आजम, सुहैल खान हेमू, सऊद अहमद सहित बड़ी संख्या में सपाई मौजूद रहे। 

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages