Latest News

किसी जाति और धर्म के खिलाफ नहीं एनआरसी: स्वदेश

बांदा, कृपाशंकर दुबे । नागरिकता संशोधन अधिनियम जन जागरण अभियान के तहत आयोजित गोष्ठी में अधिनियम के खिलाफ किए जा रहे दुष्प्रचार के लिए लोगों को जागरूक करने पर चर्चा की गई। बताया कि पहली जनवरी से जन जागरूकता अभियान शुरू होगा। इसके जरिए घर-घर जाकर लोगों को अधिनियम की जानकारी दी जाएगी। 
बैठक को संबोधित करते भाजपा नेता स्वदेश गौरव शिवहरे।
पीली कोठी स्थित पार्टी कार्यालय में सोमवार को नगर अध्यक्ष राकेश गुप्ता दद्दू की अध्यक्षता में आयोजित बैठक को संबोधित करते हुए पूर्व जिलाध्यक्ष संतोष कुमार गुप्त ने कहा कि नागरिकता संशोधन अधिनियम किसी भी जाति-धर्म के खिलाफ नहीं है। यह केवल बांग्लादेश, पाकिस्तान, अफगानिस्तान से आए हुए लोगों को भारत की नागरिकता प्रदान करना है। देश में रहने वाले लाखों अल्पसंख्यकों का नुकसान नहीं होगा। आरोप लगाया कि विरोधी पार्टियां इस कानून को लेकर लोगों को भड़काने का काम कर रही हैं। आयुष त्रिपाठी ने कविता के माध्यम से सामाजिक समरसता की अपील की। कहा कि पार्टी ने इस अधिनियम से दशकों से पीड़ित लोगों को समान जीवन देने का काम किया है। कार्यक्रम जिला संयोजक उत्तम सक्सेना ने कहा कि एनआरसी और सीएए के समर्थन और फैलाए जा रहे भ्रम को दूर करने के लिए पहली जनवरी से जन जागरण अभियान शुरू किया जाएगा। घर-घर जाकर लोगों को अधिनियम की जानकारी देकर भ्रांतियों को दूर किया जाएगा। जन जागरण अभियान के बाद जिला स्तरीय रैली आयोजित होगी। जिला मंत्री सौरभ गुप्ता ने कहा कि इस कानून का उद्देश्य बाहरी देशों से आए पीड़ित लोगों को नागरिकता देना है। इस मौके पर अरविंद गुप्ता, सूर्यपाल सिंह चैहान, संतोष नायक, राहुल सिंह, ज्ञान प्रकाश, अतुल सोनकर, लाल कुशवाहा, रीता गुप्ता आदि उपस्थित रहे। 

No comments