Latest News

समूचे देश में शराबबंदी की मांग उठायी शक्ति चेतना पार्टी ने

प्रधानमंत्री को संबोधित ज्ञापन एसडीएम को सौंपा

उरई (जालौन), अजय मिश्रा । सोमवार को भारतीय शक्ति चेतना पार्टी के नेतृत्व में अनेकों कार्यकर्ताओं ने प्रधानमंत्री को संबोधित चार सूत्रीय मांग पत्र सौंपते हुये मांग की है कि समूचे देश में नशा व मांस मुक्ति लागू कर देश का गौरव बढ़ाया जाये। उक्त ज्ञापन उप जिलाधिकारी सदर को सौंपा गया।
पार्टी के जिलाध्यक्ष जुझार सिंह राजपूत पूर्व प्रधान के नेतृत्व में अनेकों कार्यकर्ताओं ने कलेक्ट्रेट में नशाबंदी के समर्थन में नारेबाजी करते हुये कहा कि आज जहां हम सभी स्टार्ट अप इंडिया की बात करते हैं लेकिन वर्ष
शराब बंदी को लेकर ज्ञापन देते कार्यकर्ता।
1947 में भारत को अंग्रेजों से तो आजादी मिल गयी अब देश को 2020 में नशे से आजादी दिलाने की मांग करते हैं। क्योंकि नशे के आदी लोगों की वजह से अनेकों प्रकार की जघन्य घटनायें आये दिन देश में घटित हो रही है जिससे देश की अंतर्राष्ट्रीय जगत में भी छवि धूमिल हो रही है। प्रधानमंत्री को संबोधित ज्ञापन में मांग की गयी है कि समूचे देश में शराब बंदी लागू की जाये। सिगरेट, बीड़ी, गुटखा, खैनी सहित सभी प्रकार के मादक पदार्थों की बिक्री को प्रतिबंधित किया जाये। साथ ही मांस की बिक्री पर भी पूर्ण रूप से प्रतिबंध लगाया जाये। कार्यकर्ताओं का कहना था कि देशहित में यदि मादक पदार्थों की बिक्री पर प्रतिबंध लगाया जाता है तो निश्चित रूप से उसका स्वागत सर्वसमाज के लोग करेंगे। इस दौरान सुशील कुमार अवस्थी, सुनीता अवस्थी, रवी अवस्थी, अयोध्या प्रसाद, रंजीत सिंह, मंगल सिंह, रंजीत यादव, शरद अवस्थी, विष्णु सोनी, पुष्पेंद्र सिंह, वेदप्रकाश, भगवती प्रसाद, सुघर सिंह, भाग्यवली खरका, धर्मेन्द्र खरका, कृष्णा पांडेय, रेखा सेंगर, ऐकता राजपूत, सविता, प्रतिभा, मोहन, सलौनी धमनी, आशीष सोनी, मटरू द्विवेदी, आसिब, धर्मेन्द्र सिंह, रामेंद्र चैधरी, धर्मेन्द्र सिंह, श्याम सोनी, आलोक पाल, अंसुल पाल, रमेश लुहार, मनोज चैधरी, पुष्पेंद्र यादव सहित अनेकों कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

No comments