Latest News

सपाईयो व पुलिस में तीखी नोक-झोंक, कांग्रेसी नेताओ को किया नजरबंद

कानपुर नगर,  हरिओम गुप्ता - सूबे के मुखिया शनिवार को शहर में थे और उनके आगम पर सपा विधायक उन्हे काला झण्डा दिखाने के लिए अपने समर्थकों के साथ पहुंचे थे, लेकिन उन्हे पुलिस ने हिरासत में ले लिया। वहीं महिला सुरक्षा और उन्नाव कांड को लेकर ज्ञापन देने की तैयारी कर रहे कांग्रेस नेताओं को भी नजरबंद कर दिया गया। कांग्रेस तथा सपा के नेताओं ने पुलिस के इस रवैये पर रोष जताते हुए भाजपा सरकार का यह तानाशाह रवैया कहा। मुख्यमंत्री को काला झण्डा दिखाने के लिए सपा विधायक अमिताभ बाजपेयी स्कूटी से कम्पनी बाग पहुंचे थे तथा मुख्यमंत्री के हैलीकाॅप्टर को देख काला झण्डा दिखाना शुरू कर दिया, जिसके बाद पुलिस ने कार्यकर्ताओं की कहासुनी हुई तथा सपाईयों को हिरासत में लेकर थाने पहुंचाया गया।
                   
 
 सूबे के मुखिया योगी आदित्य नाथ आगामी प्रधानमंत्री मोदी के कानपुर दौरे से पूर्व व्यवस्थाओं और तैयारियो को परखने के लिए कानपुर आये थे। वहीं सपा विधायक अमिताभा बाजपेयी तथा सपा के अन्य वरिष्ठ पदाधिकारियों द्वारा मुख्यमंत्री को बिगडती कानून व्यवस्था और उन्नाव कांड पर सीएम को काला झंडा दिखाने की तैयारी की गयी थी। मुख्यमंत्री मंत्री के हैलीकाॅप्टर के आते ही जैसे सपाईयों ने काले झंडे दिखाना शुरू किया

पुलिस ने उनकी तीखी बहस हो गयी तथा सभी को हिरासत में लेकर थाने भेज दिया गया, वहीं कुछ समय पश्चात उन्हे छोड दिया गया। दूसरी तरफ प्रदेश में महिला सुरक्षा तथा उन्नाव कांड पर सीएम को ज्ञापन देने की तैयारी में लगी कांग्रेस कमेटी कानपुर की अध्यक्षा ऊषा रानी कोरी अपने आवास पर अपने अन्य कांग्रेसी नेताओ में राजीव द्विवेदी, नरेंद्र चंचल कुशवाहा, प्यारे लाल कमल, रंजीत कुमार आदि के साथ मंत्रणा कर रही थी। पुलिस को इस बात की भनक लग गयी और ऊषा रानी को उनके अन्य साथियों के साथ उनके आवास पर ही नजरबंद कर दिया गया।

No comments