Latest News

अटल जी ने देश को वैज्ञानिक सोंच के साथ आगे बढ़ने की दी थी सलाह

हमीरपुर, महेश अवस्थी । क्षेत्रीय उपाध्यक्ष कानपुर बुन्देलखण्ड की आशारानी कबीर ने कहा कि अटल जी का व्यक्तित्व अनुकरणीय है। उन्होंने 21वी शताब्दी के भारत की मजबूत और विशाल नींव खेती के क्षेत्र में रखी ताकि किसान खुशहाल हो सके। वे अटल बिहारी बाजपेयी के जन्मदिन पर बोल रहीं थी। कृषि विज्ञान केन्द्र कुरारा में अटल जी के जन्म दिन को विज्ञान दिवस के रूप में मनाया गया जहां उनकी प्रतिमा पर माल्यापर्ण कर

दीप जलाकर डाॅ एसपी सोनकर ने कहा कि अंधकार से प्रकाश की ओर ले जाने का काम विज्ञान का होता है। और इसे दिशा पूर्व प्रधानमंत्री ने दी। अटली जी विशेष संस्मरणों को सुनाते हुये उन्होंने कहा कि बाधायें आती हैं आये, घिरें, प्रलय की और घटायें, पांव के नीचे अंगारे, सिर पर बरसें यदि ज्वालायें हैं अटल जी ने जय जवान, जय किसान जय विज्ञान का नारा दिया था। डाॅ फूल कुमारी ने किसानों ने कहा कि विज्ञान के प्रति किसानों को जागरूक होना होगा, तभी विकास सम्भव होगा। डाॅ शालिनी, डाॅ प्रशान्त ने भी विचार रखे। प्रियंका, मोनिका, वंदना किसान, बलीराम मौजूद थे। इसी प्रकार योग केन्द्र में दर्जा प्राप्त मंत्री बाबूराम निषाद, नगर अध्यक्ष वेद प्रकाश आर्या, पूर्व नगर अध्यक्ष लक्ष्मीरतन साहू, क्षेत्रीय उपाध्यक्ष महिला मोर्चा नीलम बाजपेयी, रेखा चन्देल, बाबूराम अवस्थी ने विचार रखे। संचालन लल्ला अवस्र्थी कर रहे थे।

No comments