Latest News

जबरदस्त ठंड से दो बालिकाओं समेत तीन की मौत

ठंडी हवाओं ने बढ़ाई गलन, तापमान 17 डिग्री पहुंचा 
कड़ाके की ठंड में अलाव जलाकर ठंड से बचाव कर रहे लोग 
सरकारी अलावों का अता-पता नहीं, ठिठुर रहे राहगीर 
कोहरे की आगोश में रही शनिवार की सुबह 

बांदा/बबेरू, कृपाशंकर दुबे । दिसंबर माह के आखिरी दिनों में ठंड अपने पूरे शवाब पर है। पौ फटने से लेकर रात होने तक कड़ाके की ठंड ने लोगों को बेदम करके रख दिया है। गली-मुहल्लों में लोग किसी तरह से अलाव जलाकर ठंड से अपना बचाव करते नजर आ रहे हैं। जबरदस्त शीतलहरी के चलते जिले में दो बालिकाओं समेत तीन लोगों की मौत हो गई। मृतक परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। इधर, सरकारी अलावों का अता-पता नहीं है। कागजी दावे जरूर किए जा रहे हैं। बमुश्किल निकल पा रही धूप भी असर नहीं कर पा रही है। 
अतर्रा थाना क्षेत्र के अनथुवा गांव निवासी शिव कुमारी (70) पत्नी गिरधारी शुक्रवार को शाम घर के दरवाजे पर बैठी थी। तभी उसे ठंड लग गई। घर वालों ने आग जलाकर उसका बदन सेंका। लेकिन हालत में सुधार नहीं
अलाव में बदन सेंकते लोग
हुआ। आनन-फानन में घर वालों ने उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया। यहां उपचार के दौरान उसने दम तोड़ दिया। परिजन शव लेकर घर चले गए। शहर के धीरज नगर निवासी मधु (8) शनिवार को दोपहर घर के बाहर खेल रही थी। खेलते समय वह अचानक बेहोश होकर जमीन पर गिर पड़ी। परिजन उसे नाजुक हालत में लेकर जिला अस्पताल आए। यहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। परिजन शव लेकर घर चले गए। इसी तरह बबेरू कोतवाली क्षेत्र के ग्राम परसौली निवासी रामपाल की पुत्री प्रिया (8) ठंड की चपेट में आ गई। परिजनों ने घरेलू उपचार किया लेकिन उसकी हालत और बिगड़ गई। परिजनों ने इलाज के लिए सीएचसी लेकर आए, वहां पर डाक्टरों ने देखते ही उसे मृत घोषित कर दिया। बालिका की मौत से परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल हो गया। 
इधर, ठंड से पीड़ित होने पर कई लोगों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। इनमें शहर के गुलाब बाग निवासी कामता प्रसाद (57), कालू कुआं मोहल्ला निवासी सोमवती (45), नरैनी रोड स्थित वृद्धाश्रम निवासी रामकुमार (64), जौरही गांव का भागीरथ (70), पारा बिहारी निवासी अलाउद्दीन (65) की ठंड से हालत बिगड़ गई। गंभीर हालत में सभी को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। 

ठंड से सड़क किनारे बेहोश मिला वृद्ध 
बांदा। शहर के डीएम कालोनी मुहल्ले में शनिवार की सुबह एक अधेड़ बेहोशी हालत में पड़ा पाया गया। राहगीरों ने देखा तो पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने उसे उठाकर जिला अस्पताल में भर्ती
जबरदस्त कोहरे का दृश्य
कराया। बेहोशी हालत में होने के कारण वृद्ध अपना नाम और पता नहीं बता सका। पुलिस ने शिनाख्त कराने का प्रयास किया। लेकिन उसकी शिनाख्त भी नहीं हो सकी है। 

No comments