Latest News

कैब व एनआरसी के विरोध में सभी समुदाय के लोगों ने किया प्रदर्शन

बड़ी संख्या में महिलाओं ने भी भरी हुंकार 
बाम्बे लाज से पुरानी तहसील तक सड़क पर हंगामा 

फतेहपुर, शमशाद खान । नागरिकता संशोधन बिल लोकसभा में पारित होने के बाद से पूरे देश में विरोध के स्वर उठने लगे हैं। पश्चिम बंगाल व असम में हिंसात्मक प्रदर्शन भी हुए हैं। इसकी आग धीरे-धीरे अन्य प्रदेशों तक पहुंच रही है। रविवार को शहर क्षेत्र के अन्तर्गत जीटी रोड पर सभी समुदाय के लोगों ने कैब व एनआरसी के विरोध में जमकर प्रदर्शन किया। इस प्रदर्शन में बड़ी संख्या में महिलाएं भी शामिल रहीं। बाम्बे लाज से लेकर पुरानी तहसील तक सड़क पर जमकर नारेबाजी के बीच हंगामा हुआ। लोगों ने कैब व एनआरसी को तत्काल वापस लिये जाने की मांग की। सुरक्षा के दृष्टिकोण से पुलिस प्रशासन तैनात रहा। 
बताते चलें कि कैब व एनआरसी का विरोध दर्ज कराये जाने के लिए शहर क्षेत्र के युवाओं द्वारा कई दिनों से लोगों से लगातार सम्पर्क कर विरोध प्रदर्शन में उपस्थिति दर्ज कराये जाने की अपील की जा रही थी। रविवार को सभी
कैब व एनआरसी को लेकर विरोध दर्ज कराते सभी समुदाय के लोग।  
समुदाय के बड़ी संख्या में लोग जीटी रोड बाम्बे लाज के समीप एकत्र हुए। हाथों में लोग स्लोगन लिखी तख्तियां भी लिए हुए थे। जिनमें लिखा था रीजेक्ट कैब व एनआरसी। लोगों ने केन्द्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। विरोध प्रदर्शन के दौरान वक्ताओं का कहना रहा कि कैब व एनआरसी के जरिये लोगों का उत्पीड़न किया जायेगा। भ्रष्टाचार को भी बढ़ावा मिलेगा। यह दोनों बिल लाकर केन्द्र सरकार देशवासियों का शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार के साथ-साथ महंगाई से ध्यान भटकाने का प्रयास कर रही है। यह देश विरोधी बिल किसी भी सूरत में पारित नहीं होने दिये जायेंगे। प्रदर्शन की खासियत यह रही कि इसमें बड़ी संख्या में महिलाएं भी उपस्थित रहीं। जिन्होने कैब व एनआरसी का विरोध दर्ज कराया। जुलूस की शक्ल में प्रदर्शनकारी जीटी रोड पुरानी तहसील तक पहुंचे और जमकर प्रदर्शन किया। सुरक्षा व्यवस्था के दृष्टिकोण से शहर कोतवाल के अलावा कई चैकी इंचार्जों के साथ-साथ बड़ी संख्या में पुलिस के जवान मुस्तैद रहे। विरोध प्रदर्शन के कारण राहगीरों के साथ-साथ वाहन सवारों को जाम की समस्या से भी जूझना पड़ा। जुलूस की समाप्ति के बाद ही जीटी रोड का यातायात सामान्य हो सका। इस मौके पर मो0 शोएब अरबी, मो0 जहीर, राजू, मुन्ना, मो0 बिलाल, मो0 मतीन, मो0 यासीन, राजेश, संतोष, मो0 अबुजर, फैजान अली, सलीम अख्तर कुदसी के अलावा बड़ी संख्या में लोग शामिल रहे। 

No comments