Latest News

व्यापारियों ने दिया सांसद को ज्ञापन

कानपुर नगर,  हरिओम गुप्ता - आॅनलाइन कंपनियों व कंपनियों द्वारा भारत सरकार के एफडीआई सहित अन्य नियमों व निर्देशो के उल्लंधन के तथा जीएसटी की प्रस्तावित बैठक में जीएसटी के नियम 36(4) को समाप्त करने सहित करमुक्त अनाज, दालों व अन्य को जीएसटी के दायरे में लाने के प्रस्ताव को लेकर कानपुर के व्यापारी सांसद सत्देव पचैरी से उनके निवास पर मिले तथा उनके माध्यम से प्रधानमंत्री व केंद्रीय वित्त मंत्री को संबोधित ज्ञान दिया। सांसद ने दोनो मुददो को भारत सरकार तक पहुंचाने व संसद में उठाने का आश्वासन दिया।
               
   इस दौरान व्यापारियों ने बताया कि उक्त दोनो मुददों पर 11 सूत्रीय ज्ञान दिया गया है। कहा सांसद सत्यदेव पचैरी ने आश्वासन दिया है कि उनकी बात पहुंचायी जायेगी तथा इसे वह संसद में भी उठायेंगे। वहीं सांसद आवास पर हजारो की संख्या में विभिन्न बाजारो के व्यापारी पहुंचे जो अपने हाथो में आॅनलाइन कंपनियों के लिखाफ तख्तियां लिऐ हुए थे। व्यापारियों की मांग थी कि व्यापारियों के व्यापार को बचाने के लिए ऐमजाॅन व फ्लिपकार्ट आॅनलाइन कंपनियों पर रोक लगाने व इनपर नियंत्रण रखने के लिए नियामक आयोग बनाया जाये साथ ही करमुक्त अनाज व दालों सहित अन्य वस्तुओं में टैक्स लगाने का प्रस्ताव है जो आम जनता व व्यापारियों के दृष्टिकोण से लागू नही होना चाहिये। वहीं मंडी शुल्क समाप्त करने, देशी घी, टिम्बर में टैक्स कम करने, ब्रांडेड अनाज को करमुक्त करने, रिटर्न की प्रक्रियाको सरल करने की भी मांग की गयी। इस दौरान रोशन गुप्ता, कमल त्रिपाठी, चन्द्रकर दीक्षित, हरशिंकर गुप्ता, लक्ष्मणदास, भूपेन्द्र भाटिया, अनुराग साहू, पवन गौड, मनोज जैन, मनोज विश्वकर्मा, नीरज दोसर, अरविंद गुप्ता आदि मौजूद रहे।

No comments