Latest News

सर्दी से बेहाल आम जनमानस

देवेश प्रताप सिंह राठौर 
( उत्तर प्रदेश महासचिव)

भारत के कई राज्य इस समय सर्दी से ग्रस्त हैं जिसमें एक उत्तर प्रदेश भी शीतला है के कारण लोग घर से निकलने में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है I सरकार की तरफ से उत्तर प्रदेश में हर जिले में जो मुझे जानकारी प्राप्त है उन जिलों में अच्छी अलाव की व्यवस्था एवं रैन बसेरा आदमी रहने के लिए लोगों को निर्देशित के साथ उन्हें पहुंचाने का काम सरकारी नुमाइंदे कर रहे हैं।उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा सर्दी की उत्तम व्यवस्था की गई है, रेन बसेरा सरकार द्वारा एवं प्राइवेट संस्थाओं ने बनाए हैं गरीब असहाय लोग जो फुटपाथ पर लेटे थे पन्नी

की छाया उन्हें सब रैन बसेरा में ले जाने का काम सरकार ने किया है इस तरह का कार्य पूर्व में सरकारो ने नहीं किया है। अधिक सर्दी सात जनवरी तक चलने की उम्मीद है, और समय बढ़ भी सकता है ।आप सुनते होंगे हर बार हर व्यक्ति यही कहता है कि 50 साल पहले पुराना 75 साल पुराना 80 साल पुराना रिकॉर्ड टूटा, परंतु मैं यह कह सकता हूं जो सर्दी आज से 25 साल पहले पढ़ती थी वह सर्दी अब नहीं पड़ती है जिसका मुख्य कारण है इतनी आधुनिक विश्व में एक्सपेरिमेंट इतना होते है।   यह कहना कि सर्दी का पुराना रिकॉर्ड टूटा है मैं इस बात को नहीं मानता हूं। क्योंकि आज सारे सिस्टम कुदरत ने भी अपने बदल दिए है, जगह-जगह प्रदूषण फैला हुआ है । कुदरत के साथ छेड़ छाड़ जो मुख्य कारण है, मानसून भी समय सीमा से नहींआता है। परंतु फिर भी अपनी मर्यादा की रक्षा करती हुई सर्दी के कारण आज उन्नाव ,औरैया ,इटावा, कानपुर, झांसी में धूप एक बजे हलकी सी निकली लोग अपने शरीर को धुप में सेखते और ठंड से बचने का प्रयास करते पाए गए है।

No comments