Latest News

अस्पताल में मरीज की मौत पर हंगामा, परिजनों ने लगाया लापरवाही का आरोप

फतेहपुर, शमशाद खान । बुधवार की देर रात बाइक द्वारा अपने रिस्तेदारी में जा रहे एक लगभग 25 वर्षीय बाइक सवार की अज्ञात वाहन की चपेट में आ जाने से घायल हो गया जिसे उपचार के लिये जिला चिकित्सालय लाया गया जहा इलाज के दौरान गुरूवार की सुबह उसकी मौत हो गयी। वही मृतक के परिजनो ने डाक्टर पर लापरवाही का आरोप लगाया। जिसके चलते युवक की मौत को गयी जब कि चिकित्सक का कहना है कि उसकी मौत उपचार के दौरान हुयी है। जानकारी के अनुसार खागा कस्बा निवासी स्व0 मनराज सिह यादव का पुत्र सुनील यादव कल शाम बाइक द्वारा अपने रिस्तेदारी में जा रहा था। तभी थरियाव थाना क्षेत्र के अन्तर्गत हाइवे पर
 
ट्रामा सेन्टर में हंगामा करते मृतक के परिजन।
अज्ञात वाहन की चपेट में आ जाने से घायल हेा गया। जिससे सूचना मिलने पर सरकारी एम्बुलेन्स ने जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया। जहा आज सुबह उसकी मौत हो गयी। उधर सुनील की मौत के बाद परिजनो ने सदर अस्पताल के ट्रामा सेन्टर में हंगामा शुरू कर दिया। तथा डयूटी पर तैनात डाक्टर डीके राय पर लापरवाही का आरोप लगाया जिसके चलते उसकी मौत हो गयी। वही मृतका की मां अनीता देवी ने बताया कि सडक हादसे के बाद उसके पुत्र को जिला चिकित्सालय में भर्ती नही किया गया और उसके सदर अस्पताल से भगा रहे थे। आज सुबह जब साढे आठ बजे उसकी मौत हो गयी तो डाक्टर द्वारा उसका इलाज शुरू कर दिया और उस पर कम्बल डाल दिया जब की मां का कहना है कि चिकित्सको के लापरवाही के चलते उसके पुत्र को भर्ती नही किया गया जिसके चलते उसकी ठण्ड लग जाने के कारण मौत हो गयी है। वही इमरजेन्सी मे तैनात चिकित्सक डाक्टर डीके राय के अनुसार सुनील का जिला चिकित्सालय में इलाज किया जा रहा था और सुबह  लगभग छः बजे वह टहल रहा था और ट्रामा सेन्टर में स्थित बेड पर लेटा था तभी अचानक उसकी मौत हो गयी। परिजनो ने हंगामा उस समय शुरू कर दिया जब भर्ती कागज में उन्होने मौत रात 11ः50 पर दिखाया जब कि सुनील की मौत आज सुबह लगभग साढे आठ बजे हो गयी। हंगामा देख चिकित्सक ने इसकी सूचना पुलिस को दे दी। जिस पर मौके पर पहुची पुलिस ने हंगामा कर रहे परिजनो को समझा बुझा कर शान्त कराया और कार्यवाही करने का आश्वासन दिया। वही मृतक की मां ने चिकित्सक डाक्टर डीके राय के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के लिये तहरीर दी है। पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर विच्छेदन गृह भेज दिया। 

No comments