Latest News

डीएम के ताबड़तोड़ निरीक्षण से अधिकारियों व कर्मचारियों के हाथ-पांव फूले

असोथर ब्लाक के ऐझी गांव में विकास कार्यों का लिया जायजा 
बेसड़ी के धान क्रय केन्द्र व कोटे की दुकान का किया सत्यापन

फतेहपुर, शमशाद खान । असोथर विकास खण्ड मुख्यालय के ग्राम ऐझी में चल रहे विकास कार्यों व बेसड़ी गांव स्थित धान क्रय केन्द्र व सरकारी उचित दर विक्रेता की दुकान का जिलाधिकारी संजीव सिंह ने सत्यापन किया। डीएम के ताबड़तोड़ निरीक्षण से सम्बन्धित अधिकारियों व कर्मचारियों के हाथ पांव फूल गये। डीएम ने सभी कार्यों को समय से पूरा करने के निर्देश दिये। वहीं पराली जलाने पर किसान के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के आदेश भी दिये। धान क्रय केन्द्र में खामी मिलने पर पूरा विवरण अंकित किये जाने की बात कही। 
सोमवार को जिलाधिकारी संजीव सिंह विकास खण्ड असोथर की ग्राम पंचायत ऐझी पहुंचे। जहां ग्राम प्रधान द्वारा महात्मा गांधी रोजगार गारंटी योजना के तहत अजीत प्रताप सिंह के घर से आशीष कुमार, कुसमा के घर से बचानी सिंह के घर तक कराये जा रहे खडंजा निर्माण, अनुरूद्व दुबे के घर से घाटमपुर पुल तक खुदाये जा रहे

कोटे में तेल की नाप करवाते डीएम संजीव सिंह।  
कच्चा नाला, फतेह तालाब की खुदायी आदि कार्यो का निरीक्षण किया। कार्य में लापरवाही व कमी पाये जाने पर डीसी मनरेगा को नाले का डीपीआर के अनुसार लम्बाई, चैड़ाई व गहराई की नाप किये जाने के उपरान्त रिपोर्ट देने के निर्देश दिये। उन्होने बनाये गये खाद के गड्डे को देखा। कहा कि इसमें गोबर डालकर खाद बनायी जाय। खडंजा निर्माण में पाया गया कि पत्थरगडी मंे वर्ष अंकित है लेकिन लागत दर्ज नहीं की गयी। जिसे अंकित कराने के निर्देश दिये। ग्राम ऐझी के कृषक बच्छराज पुत्र केदारनाथ के खेत के पूरब, उत्तर, दक्षिण दिशा में पड़ने वाले किसानों द्वारा खेतो में पराली जलायी पायी गयी है। लेखपाल को निर्देश दिये कि खतौनी से देखकर सम्बन्धित किसान पर एफआईआर दर्ज करायी जाये। ग्राम बेसड़ी में संस्था नैफेड द्वारा संचालित धान क्रय केन्द्र का निरीक्षण किया। केन्द्र प्रभारी के अनुपस्थित रहने पर कार्यवाही के निर्देश दिये। केन्द्र में बीस हजार कुन्तल धान क्रय के सापेक्ष ग्यारह हजार एक सौ बाईस कुन्तल धान क्रय किया जा चुका है। उन्होने नमी मापक यंत्र से धान की नमी नापकर देखा। केन्द्र में लगभग बारह सौ खाली बोरो की उपलब्धता पायी गयी। केन्द्र में इलेक्ट्रानिक कांटा को मापने के लिये बांट उपलब्ध नही थे। इलेक्ट्रानिक कांटा में तौल की गयी। जिसमें 40.650 किग्रा, 40.450 किग्रा, 40.350 किग्रा धान से भरे बोरो पाये गयें। उन्होने निर्देश दिये कि पूरा विवरण मय मोबाइल नम्बर रजिस्टर पर अंकन किया जाय। ग्राम पंचायत बेसड़ी में सरकारी उचित दर की दुकान का सत्यापन किया। सत्यापन के दौरान ग्राम के राजरानी से राशन, केरोसीन मिलने की जानकारी ली। ग्रामीणों द्वारा बताया गया कि 02 रूपये प्रति किलो की दर से गेहूं एवं 03 रूपये प्रति किलो की दर से चावल मिल रहा है। कार्ड धारको द्वारा बताया गया कि कोटेदार से कोई शिकायत नही है। समय से राशन प्राप्त हो रहा है। इस अवसर पर डीसी मनरेगा पुतान सिंह, जिला सूचना अधिकारी आर0एस0वर्मा, जे0ई0, ग्राम प्रधान, ग्रामवासी सहित सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित रहें।

No comments