Latest News

चौपाल जिस गांव में वहां स्टाॅल लगाएं अधिकारी: डीएम

समस्यायें सुन विकास कार्यों का किया सत्यापन
गौशाला, आवास, शौचालय की देखी स्थिति

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। जिलाधिकारी शेषमणि पाण्डेय ने विकास खण्ड रामनगर के पूर्व माध्यमिक विद्यालय देऊंधा के प्रांगण में ग्रामवासियों के समक्ष चैपाल लगाकर विकास कार्यों का सत्यापन कर समस्याएं सुनी। तत्पश्चात ग्राम का भ्रमण कर योजनाओं को देखा तथा गौशाला का भी निरीक्षण किया।
जिलाधिकारी ने चैपाल के दौरान अधिशासी अभियंता विद्युत राजापुर के मौजूद न रहने पर जवाब तलब करने व प्रतिकूल प्रविष्टि दिए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने आवास व शौचालय के लाभार्थियों से कहा कि जिन लोगों के अभी कार्य अधूरे हैं तत्काल पूर्ण करा लें। अन्यथा दूसरी किस्त का लाभ नहीं दिया जाएगा और वसूली की कार्यवाही कराई जाएगी। उन्होंने ग्राम प्रधान व सचिव को निर्देश दिए कि जो हैंडपंप खराब हैं उन्हें तत्काल ठीक कराएं। जिला विकास अधिकारी से कहा कि गांव में चैपाल के दौरान योजनाओं के लाभार्थियों को अवश्य बुलाया जाए। ताकि उनसे विकास कार्यों व लाभ के बारे में जानकारी की जा सके। गौशाला के संचालन पर ग्रामवासियों से कहा कि सब लोग गौशाला में मदद करें। ग्राम प्रधान व सचिव ही जिम्मेदार नहीं है। सभी लोग मिलजुल कर चारा भूसा की व्यवस्था कराएं। शासन से एक गोवंश रखने के लिए 30 रुपए प्रतिदिन दिया जाता है। एक व्यक्ति चार गोवंश रखें और प्रतिदिन 120 रुपए दिया जाएगा। गोमूत्र और गोबर से भी कई चीजें बनाई जा रही है। यहां के गौशाला में गोबर गैस का प्लांट लगाया जाए जो लोग गोवंश को रख रहे हैं उसे दूध देने के
बाद छोड़ेंगे नहीं, क्योंकि नाम से गोवंश की टैगिंग की जाएगी। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि पर कहा कि जो लोग छूट गए हैं उन्हें तत्काल लाभ दिलाया जाए। जिला कृषि अधिकारी ने बताया कि यहां पर कैम्प लगाया गया है। उसमें सभी लोग देख ले कि किस कारण से नहीं प्राप्त हुआ है।  इसके अलावा प्रधानमंत्री मानधन योजना का भी लाभ लें और प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में अधिक से अधिक लोग बीमा कराएं। अगर कोई कृषि से संबंधित समस्या है तो उनके मोबाइल नंबर 9889104046 पर किसी भी समय समस्या का निदान करा सकते हैं। जिलाधिकारी ने पेंशन योजनाओं की समीक्षा पर सचिव व प्रधान को निर्देश दिए कि जो भी पेंशन योजना के पात्र लोग गांव में छूट गए हैं उनको तत्काल लाभ दिलाया जाए। जिला दिव्यांग अधिकारी को निर्देश दिए कि जिन विकलांगों को ट्राई साइकिल दिया जाना है उन्हें उपलब्ध कराएं। जिलाधिकारी ने कहा कि विद्यालयों का कायाकल्प अच्छी तरीके से किया गया है तथा गौशाला का संचालन भी ग्राम प्रधान व सचिव द्वारा ठीक ढंग से किया जा रहा है। इस गांव से और गांव के लोगों को सीख लेना चाहिए। यहां पर मेरा छत मेरा पानी के तहत रेन वाटर हार्वेस्टिंग के भी कार्य कराए गए हैं। अन्य गांवों में भी कराएं। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को निर्देश दिए कि जनपद में जितने भी पुराने विद्यालय अवस्था में है उनको तत्काल कराए जाने की कार्यवाही करें। स्वच्छ भारत मिशन में 674 शौचालय के सापेक्ष 87 अपूर्ण पाए गए। जिला पंचायत राज अधिकारी को निर्देश दिए कि जांच कराकर तत्काल शौचालय पूर्ण कराया जाए। यह कार्य एक सप्ताह के अंदर पूर्ण करा लिया जाए। विद्युत विभाग की समस्या पर कहा कि सौभाग्य योजना के मामले अधिक आए हैं यहां पर उपखंड अधिकारी विद्युत टीम लगाकर कैंप के माध्यम से निस्तारण कराएं तथा संविदा कर्मचारी रामा शंकर पाठक जो लाइनमैन विद्युत खंभे से गिरने के बाद घायल अवस्था में है उसका कोई मदद विद्युत विभाग द्वारा नहीं की गई। यह अत्यंत खेदजनक है। जिलाधिकारी ने अधिकारियों से कहा कि अगली बार जिस गांव में चैपाल लगाई जाए। उसमें सभी विभागों के अधिकारी अपने अपने विभाग के स्टाल लगाएंगे। उन्होंने तहसीलदार को निर्देश दिए जितने भी राजस्व के मामले तथा वरासत के मामले आए हैं उनका निस्तारण कराएं और विद्यालय के बगल में जो तालाब पड़ा है उसका चिन्हांकन ंकर डीसी मनरेगा को सूचना दें ताकि इस तालाब का कायाकल्प कराया जा सके। इसके बाद उन्होंने मनरेगा के कार्यों, हैंडपंप संचालन, विद्युत, खाद्यान्न वितरण, प्रधानमंत्री आवास, पेंशन योजनाएं आदि विभिन्न योजनाओं की समीक्षा की। तत्पश्चात ग्राम का भ्रमण किया जिसमें उन्होंने बैजनाथ, गुड़िया देवी, हरिप्रसाद के आवास को देखा। जिसमें छपाई, पुताई ना होने पर सचिव व प्रधान को निर्देश दिए कि तत्काल प्रधानमंत्री ग्रामीण आवासांे के छपाई पुताई करा कर लोगों का पेंट कराते हुए लाभार्थी का नाम लिखाया जाए। ग्राम में जहां पर नालियां टूटी फूटी है उन्हें ठीक कराएं और साफ-सफाई ठीक ढंग से कराई जाए। हैंडपंपों के पास जहां पानी बहता है वहां पर सोक पिट बनवाए। गौशाला के संचालन में ग्राम सचिव ने बताया कि 396 गोवंश है। इस मौके पर संबंधित अधिकारी, प्रधान व ग्रामीण मौजूद रहे।

No comments