Latest News

डेढ़ करोड़ रंगदारी मांगने वाला मुख्य अभियुक्त गिरफ्तार

जनपद चित्रकूट के भरतकूप से अतर्रा पुलिस और क्राइम ब्रांच ने दबोचा 
पुलिस अधीक्षक ने आरोपी पर घोषित किया था 25 हजार रुपए का ईनाम 

बांदा, कृपाशंकर दुबे । पूर्व जिला पंचायत सदस्य और बसपा सरकार में कद्दावर मंत्री रहे बाबू सिंह कुशवाहा के नजदीकी से डेढ़ करोड़ रुपए की रंगदारी मांगने वाले मामले के मास्टरमाइंड को रविवार सुबह पुलिस और क्राइम ब्रांच ने धर दबोचा। उसे जनपद कर्वी के भरतकूप से गिरफ्तार किया गया। पुलिस अधीक्षक ने आरोपी पर 25 हजार रुपए का ईनाम घोषित किया था। इस मामले के तीन आरोपी पूर्व में ही जेल भेजे जा चुके हैं। 

पुलिस लाइन सभागार में मीडिया से रूबरू एसपी 
रविवार को पुलिस लाइन सभागार में मीडिया से वार्ता के दौरान अपर जिलाधिकारी संतोष बहाुदर भी मौजूद रहे। एसपी गणेश साहा मामले का खुलासा किया। आरोपी को मीडिया के सामने पेश करते हुए बताया कि अतर्रा थाना क्षेत्र के दिखितवारा गांव निवासी पूर्व जिला पंचायत सदस्य लक्ष्मी प्रसाद कुशवाहा पुत्र चुन्नू प्रसाद कुशवाहा से फोन पर डेढ़ करोड़ रुपये की रंगदारी मांगी गई थी। रंगदारी मांगने की पूरी साजिश चित्रकूट के रामघाट स्थित राजा द्विवेदी के मकान में रची गई थी। लक्ष्मी प्रसाद कुशवाहा ने थाने में तहरीर देकर रिपोर्ट दर्ज कराई। सर्विलांस की मदद से पुलिस ने गिरोह से जुड़े राजा द्विवेदी, चंद्रशेखर और जागेश्वर यादव उर्फ बबलू को 18 नवंबर को गिरफ्तार कर लिया। अदालत में पेश करने के बाद उन्हें जेल भेज दिया गया। रंगदारी मांगने का मास्टर माइंड गया प्रसाद पुत्र रामकृपाल यादव निवासी पतौरा (चित्रकूट) फरार चल रहा था। गिरफ्तारी के लिए उस पर 25 हजार रुपये का इनाम घोषित किया था। पुलिस अधीक्षक श्री साहा ने बताया कि रविवार को सुबह मुखबिर की सूचना पर अतर्रा थानाध्यक्ष रामेंद्र तिवारी, एसएसआई चंद्रपाल सिंह, उप निरीक्षक केसरी कुमार तिवारी, कांस्टेबिल संदीप सिंह परिहार, हरिंद्र चैहान व क्राइम ब्रांच एसआई साजिद अली, उप निरीक्षक सुजीत सिंह, हेड कांस्टेबिल योगेंद्र सिंह चैहान, शैलेंद्र यादव, भानु प्रताप और नीतेश समाधिया ने घेराबंदी कर फरार मुख्य आरोपी गया प्रसाद को चित्रकूट जिले के भरतकूप कस्बे से गिरफ्तार कर लिया। पकड़े गए आरोपी को अदालत में पेश करने के बाद जेल भेज दिया गया। एसपी ने पुलिस टीम की इस कामयाबी पर उन्हें शाबासी दी है। 

No comments