Latest News

44 अन्ना गोवंश के आश्रय गृह खुले आसमान की नीचे

सुमेरपुर के इंगोहटा में 53 बीघे की फसल खा गये अन्ना जानवर

हमीरपुर, महेश अवस्थी । अन्ना जानवर किसान और प्रशासन दोनों के लिये सरदर्द बने हुये हैं। हमीरपुर जिले में इनकी संख्या 47550 है। इनमें से सिर्फ 24 हजार गोवंश को 173 गोशालाओं में रखा गया है। इन 173 गोशालाओं में 40 गोशालायें ऐसी हैं जिनमें जानवर इस कड़कड़ाती ठण्ड में खुले आसमान के नीचे विचरण करते हैं।

परिणाम स्वरूप इन जानवरों की मौत हो रही है। जो अन्ना जानवर बाहर है उन्होंने सुमेरपुर विकासखण्ड के इंगोहटा गांव में आधा दर्जन किसानों की 53 बीघा में खड़ी मटर और गेंहू की फसल को साफ कर दिया है। जिससे किसान बेहद परेशान हैं। अभी भी तीन सैकड़ा से अधिक अन्ना गोवंश छुट्टा घूम रहे हैं। इन्हें संरक्षित करने का काम नहीं किया गया है। जबकि ग्राम पंचायत विकास अधिकारी नीतेश सिंह चंन्देल का कहना है कि अन्ना गोवंश पूरी तरह संरक्षित हैं। गांव के पशुपालकों ने अपने पालतु पशु छोड़े हैं जो फसल को नुकसान पहंुचा रहे हैं। अन्ना छोड़ने वाले पशुपालकों की सूची पुलिस को सौंप दी है, मगर पुलिस ने प्रभावी कार्यवाही नहीं की, जिससे उनके हौसले बढ़े हैं। हर दिन कहीं न कहीं ये जानवर किसानों की फसलें चट कर जाते हैं।

No comments