Latest News

विभिन्न मांगों को लेकर लेखपालों का धरना शुरू - मांगें ना माने जाने पर 27 को होगा विधान सभा घिराव।


फ़िरोज़ाबाद: उत्तर प्रदेश लेखपाल संघ  द्वारा अपनी 8 सूत्री मांगों को लेकर आज मंगलवार से धरना प्रदर्शन पर शुरू कर दिया है। लेखपाल संघ का यह प्रदर्शन 26 दिसम्बर तक जिले में होने के बाद यदि शासन द्वारा मांगे नहीं मानी जाती तो 27 को विधान सभा का धिराव किया जाएगा।  लेखपालों की मांग थी कि  उनका वेतन उच्चरण, वेतन विसंगति,  मोटरसाइकिल भत्ता, पदोन्नति, एसीपी विसंगति  आदि  मांगों पर शासन द्वारा अभी तक कोई निर्णय नहीं लिया गया है।

जबकि यह मांगे पिछले 15 अक्टूबर से लेखपालों द्वारा उठाई जाती रही है एवं 5 नवंबर से लेखपाल प्रदेश में कई वर्षों से रिक्त चल रहे लगभग 7000 लेखपालों के  क्षेत्रों में अतिरिक्त कार्य कर रहे हैं ।  इससे शासन की लगभग ढाई सौ करोड रुपए सालाना की  आय की बचत हो रही है । इसके बावजूद शासन के वित्त विभाग द्वारा लेखपाल संवर्ग की वेतन भक्ति विसंगति आज मांगों को बार-बार लटकाया जा रहा है। 

लेखपालों ने कहा कि जब तक उनकी मांगे शासन द्वारा नहीं मानी जाएगी, तब तक उनका आंदोलन अनवरत जारी रहेगा । इस मौके पर लेखपाल संघ के अध्यक्ष अशोक कुमार यादव,  मंत्री अवनेंद्र  प्रताप सिंह , चंद्रभानु सिंह वर्मा, रामकुमार, उमेश चंद , कमलेश कुमार, शरद दुबे, विवेक प्रताप, अजय कुमार, नरेंद्र कुमार  के अलावा अनेक लेखपाल तहसील परिसर में धरना प्रदर्शन में शामिल रहे।
          

No comments