Latest News

आगामी 21 जनवरी को परिषदीय विद्यालयों में होगी तालाबंदी

प्राथमिक शिक्षक संघ की संयुक्त कार्य समिति ने लिया निर्णय

बांदा, कृपाशंकर दुबे । शिक्षकों की समस्याओं को दूर कराने और लंबित मांगों को पूरा कराने के लिए शिक्षक महासंघ की अगुवाई में 21 जनवरी को जिले भर के विद्यालयों में तालाबंदी रहेगी। प्राथमिक शिक्षक संघ की संयुक्त कार्य समिति की बैठक में यह निर्णय लिया गया। बैठक में तालाबंदी से पूर्व हरेक ब्लाक क्षेत्र में जन जागरण अभियान शुरू कराए जाने की रूपरेखा तय की गई। 
बैठक को संबोधित करते आशुतोष त्रिपाठी 
बंगालीपुरा स्थित टीचर्स कोआपरेटिव सोसाइटी भवन में गुरुवार को प्राथमिक शिक्षक संघ की संयुक्त कार्य समिति की बैठक आयोजित हुई। प्रांतीय नेतृत्व के निर्देश पर 21 जनवरी को होने वाली तालाबंदी की रणनीति पर चर्चा की गई। बैठक की अध्यक्षता कर रहे प्राथमिक शिक्षक संघ जिलाध्यक्ष आशुतोष त्रिपाठी ने कहा कि प्रदेश सरकार अब शिक्षकों की नाराजगी झेल नहीं पाएगी। पुरानी पेंशन शिक्षकों का बुढ़ापे का सहारा था, जो छीन लिया गया। इससे लाखों परिवार भुखमरी के हो रहे हैं। सरकार के कानों पर जूं नहीं रेंग रही है। कई बार सरकार से वार्ता के जरिए निशुल्क चिकित्सा सुविधा देने का भरोसा दिलाया गया। लेकिन कोई भी सकारात्मक पहल नहीं की जा सकी है। सरकार की निगाह अब वेतन वितरण अधिनियम को समाप्त करने पर है। प्राथमिक विद्यालय में शिक्षकों पर प्रेरणा ऐप थोपकर उन्हें बदनाम करने की साजिश रची जा रही है। इसके विरोध में यदि शिक्षकों ने एकजुटता नहीं दिखाई तो भारी पछतावा होगा। इसके विरोध में शिक्षक महासंघ के आह्वान पर 21 जनवरी को प्राथमिक व माध्यमिक विद्यालयों में तालाबंदी करेगा। बैठक के दौरान हरेक ब्लाक में जन जागरण अभियान चलाए जाने की रूपरेखा तय की गई। कहा कि ब्लाक अध्यक्ष और मंत्री संयुक्त रूप से अभियान चला कर शिक्षकों को इस बारे में जागरूक करेंगे। बैठक में मइयादीन यादव, प्रजीत सिंह, जयकिशोर दीक्षित, सुघर सिंह, मोहम्मद नसीम मौलाना, सुधीर श्रीमाली, भुवनेंद्र यादव, राजेश द्विवेदी, राजेश तिवारी, आशुतोष गौतम, चंद्रशेखर त्रिपाठी, संतोष, राजेश यादव, विवेक यादव, सुशील मिश्रा समेत तमाम शिक्षक मौजूद रहे। 

No comments