Latest News

राष्ट्रीय लोक अदालत: 1191 में से 1107 वाद निस्तारित

बिजनौर (संजय सक्सेना): उत्तर प्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के निर्देशों के अनुपालन में शनिवार पूर्वान्ह 10 बजे से राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया गया। इस अवसर पर जिला प्रशासन से संबंधित न्यायालयों में कुल 1191 वाद प्रस्तुत किए गए, जिसके सापेक्ष 1107 वादों का निस्तारण कर दिया गया। इसी परिपेक्ष्य में जिलाधिकारी रामाकांत पाण्डेय द्वारा कलक्ट्रेट स्थित अपने न्यायालय कक्ष में प्रस्तुत 45 वादों के सापेक्ष शत प्रतिशत वादों का निस्तारण किया गया। जिलाधिकारी के सम्मुख राजस्व संहिता से संबंधित 8, फौजदारी अधिनियम के अंतर्गत 2 तथा प्री लिटिगेशन वाद के तहत 35 वाद प्रस्तुत किए गए, जिसके सापेक्ष उन्होंने सभी

प्रस्तुत वादों का निस्तारण राष्ट्रीय लोक अदालत के आयोजन के अवसर पर किया।
इसके अलावा अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व द्वारा न्यायालय में प्रस्तुत 14 वादों के सापेक्ष 6 वाद निस्तारित किए गए, जबकि राष्ट्रीय लोक अदालत के आयोजन के अवसर पर सभी तहसीलों के उपजिलाधिकारियों, तहसीलदारों, सहायक महा निरीक्षक स्टाम्प तथा श्रमायुक्त के न्यायालयों में प्रस्तुत जमींदारी विनाश अधिनियम, भू राजस्व अधिनियम, राजस्व संहिता, स्टाम्प अधिनियम, फौजदारी अधिनियम, प्री लिटिगेशन वाद साहित 1146 वादों के सापेक्ष 1101 वादों का निस्तारण किया गया।

No comments