डेंगू के संभावित सभी मरीजों की जांच एलाइजा विधि से करायी जायें: मंडलायुक्त - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Advt.

Advt.

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Sunday, November 17, 2019

डेंगू के संभावित सभी मरीजों की जांच एलाइजा विधि से करायी जायें: मंडलायुक्त

कानपुर नगर, हरिओम गुप्ता - मण्डलायुक्त,कानपुर मण्डल,डा0सुधीर एम0बोबडे की अध्यक्षता में शिविर कार्यालय के सभाकक्ष में राष्ट्रीय वेक्टरजनित रोग नियंत्रण कार्यक्रम के अन्तर्गत ‘‘विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान’’(दिनंाक 16 से 30 नवम्बर,19)तक आयोजित किये जाने की अन्र्तविभागीय समन्वय बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में उन्होनें संक्रामक एवं वैक्टरजनित रोगों मलेरिया/डेंगू के परीक्षण एवं उपचार के संबंध में निर्देशित किया कि डेंगू के संभावित सभी मरीजों की जांच एलाइजा विधि से करायी जायें।उन्होनें बताया कि इस विधि से जांच कराये जाने हेतु जनपद में लैब माइक्रोबायोलाजी विभाग,जीएस0वी0एम0मेडिकल कालेज एवं जिला पुरूष चिकित्सालय,यू0एच0एम0(उर्सला अस्पताल) में निःशुल्क रूप में उपलब्ध है।उन्होनें मंण्डल में ’’विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान’’को प्रभावी रूप से संचालित किये जाने के संबंध में चिकित्साधिकारियों को निर्देशित किया।उन्होनें अन्र्तविभागीय विभागों के अधिकारियों को निर्देशित किया कि वह अपने-अपने विभागों के निर्धारित किये गये लक्ष्यों के अनुरूप कार्य करना सुनिश्चित करें, इस कार्य में किसी प्रकार की शिथिलता बर्दास्त नहीं की जायेगी। उन्होनें ‘‘विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान’’ हेतु जनपद स्तर पर जिलाधिकारी एवं ब्लाक स्तर पर उप जिलाधिकारियों की अध्यक्षता में समीक्षा समितियों की सप्ताह में दो बार बैठकों का आयोजन कर समीक्षा करने के निर्देश दियें।उन्होनें संबंधित विभागों को विस्तृत माइक्रो प्लान के अनुसार कार्य करने हेतु निर्देशित किया।
बैठक मे उन्होनें चिकित्सा विभाग के अधिकारियों को सरकारी चिकित्सालयों में फीवर हेल्थ डेस्क की व्यवस्था कराये जाने तथा चिकित्सालयों में प्रचुर मात्रा में दवाईयों की उपलब्धता सुनिश्चित रखने के निर्देश दियें। उन्होनें नगर निगम,नगर पालिका एवं नगर पालिका परिषद के अधिकारियों को व्यापक रूप से साफ-सफाई व्यवस्था कराये जाने के साथ मच्छरों से बचाव हेतु फांंिगग कराये जाने तथा नाले-नालियों की जल भराव की सफाई कराये जाने के निर्देश दियें। उन्होनें नगर आयुक्त को नगर में व्यापक साफ-सफाई व्यवस्था सुनिश्चित करने,बेक्टर जनित रोगों से बचाव हेतु चूने का छिडकाव कूडा घरों में कराये जाने तथा नियमित रूप से कूडा उठान का कार्य वाहनों में ढक कर ले जाने की व्यवस्था कराये जाने के निर्देश दियें। उन्होनें उप जिलाधिकारियों व खण्ड विकास अधिकारियों को स्वास्थ्य विभाग की रैपिड रिसपासं टीम के कार्यो को चैक करने तथा रेलवे  ट्रैक के आस-पास गंदगी की सफाई आदि की व्यवस्था रेलवे के अधिकारियों से समन्वय कर कराये जाने के निर्देश दियें।उन्होनें जिला मलेरिया अधिकारी को मच्छरों से बचाव हेतु शहर की मलिन बस्तियों सहित सभी जगहों पर फागिंग कराये जाने तथा डेगूं लार्वा साइडों को चैक किये जाने के निर्देश दियें।उन्होनें नगर विकास एवं जलकल विभाग को शुद्व पेयजल की उपलब्धता हेतु पानी की टंकियों की साफ-सफाई कराये जाने के निर्देश दिये।
उन्होनें डेगंू एवं मलेरिया रोग से बचाव हेतु सिनेमा स्लाइड तैयार कर व अन्य संसाधनों से इन रोगों से बाचव हेतु सर्तकता बरतने हेतु प्रचार प्रसार कराये जाने के निर्देश दियें।जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी एवं जिला विद्यालय निरीक्षक को वेकटर जनित रोगों से बचाव के प्रति जागरूकता लाने के संबंध में विद्यालयों के माध्यम से कार्ययोजना के अनुसार इससे बचाव हेतु प्रचार कराये।उन्होनें खाली जगहों में भरे जल वाले स्थलों पर पर विशेष रूप से मछरों की दवा की फागिंग कराये जाने के निर्देश दिये।उन्होनें ग्राम पंचायत स्तर पर भी फांिगंग कराये जाने हेतु तथा समुचित साफ-सफाई व्यवस्था कराये जाने के निर्देश जिला पंचायतराज अधिकारी को दिये।उन्होनें सिंचाई एवं कृषि विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया कि नहरों/ंिसंचाई के दौरान अनावश्यक जलकटाव होकर जल भराव नहीं होने पायें। बैठक में नगर आयुक्त श्री अक्षय त्रिपाठी,अपर आयुक्त,प्रशासन सहित संयुक्त निदेशक चिकित्सा,मुख्य चिकित्सा अधिकारी सहित संबंधित विभागों के मंण्डल स्तरीय अधिकारीगण उपस्थित रहें ।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages