समीक्षाकृति"कालजयी कवि सत्यकाम शिरीष और उनकी कविताएं दोहा"काव्यकृति "शिरीष के फूल" का लोकार्पण सम्पन हुआ - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Advt.

Advt.

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Thursday, November 28, 2019

समीक्षाकृति"कालजयी कवि सत्यकाम शिरीष और उनकी कविताएं दोहा"काव्यकृति "शिरीष के फूल" का लोकार्पण सम्पन हुआ

साहित्यिक संस्था तरंग के तत्वधान में राम जानकी वाटिका नौबस्ता में समीक्षा कृति कालजयी कवि सत्य काम शरीर और उनकी कविताएं तथा दोहा काव्य कृति शिरीष के फूल का लोकार्पण संपन्न हुआ
कानपुर गौरव शुक्ला:-  वरिष्ठ साहित्य समीक्षक डॉ लक्ष्मीकांत पांडे की अध्यक्षता में संपन्न कार्यक्रम में मुख्य वक्ता डॉ रामकृष्ण वर्मा मुख्य अतिथि डॉ प्रमिला अवस्थी विशिष्ट अतिथि डॉ विमलेश शर्मा सुरेश शिक्षाविद् डॉ विष्णु दत्त द्विवेदी तथा विदुषी समीक्षक डॉ दया दिछित ने वरिष्ठ कवि डॉक्टर सत्य काम सीरीज के व्यक्तित्व और कृतित्व पर अपने सारगर्भित विचार व्यक्त किए संचालन शुरू कवि सुरेंद्र सीकर ने किया कार्यक्रम की शोभा बढ़ाने के लिए डॉक्टर बालगोविंद दुवेदी,, अचार रामसिंह,, विंकल सुरेश ,,गुप्त राजहंस,, एडवोकेट हरी साहू ,,वंश गोपाल मिश्र,, विराट पांडे,, सर्वेश तिवारी,, राजेंद्र सिंह ,,मनमीत जयराम सिंह ,,जय चक्रधर शुक्ल ,,हरी लाल मिलन,, डॉ रामनरेश सिंह चौहान,, अजीत सिंह राठौर,, राजकुमार सचान,, उदय नारायण ,,उदय पंकज ,,परदेसी रमेश मिश्रा आनंद,, डॉ नारायण शुक्ला,, ललिता दिछित ,,मंजू श्रीवास्तव ,,मधुर श्रीवास्तव,, आदि नगर के अनेक कवि लेखक विद्वान और साहित्य प्रेमी उपस्थित हुए

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages