Latest News

पुरानी, पत्ती मसले पर किसानों में नाराजगी, प्रदर्शन

बिजनौर (संजय सक्सेना)। भाजपा सरकार किसानो की समस्याओ को लेकर कतई गम्भीर नहीं है। लगातार किसानों की अनदेखी के चलते ग्रामीण इलाकों में सरकार के प्रति आक्रोश बढ़ता जा रहा है। 
रविवार को अफजलगढ़ के गांव मीरपुर घासी में ब्लाक उपाध्यक्ष मुख्तियार सिंह के आवास पर किसानों ने एकत्र होकर सरकार की किसान विरोधी नीतियों की आलोचना करते हुए जोरदार विरोध प्रदर्शन किया. इस मौके पर उपस्थित किसानों को सम्बोधित करते हुए भाकियू के ब्लाक अध्यक्ष दर्शन सिंह फौजी ने कहा कि एक ओर जहां सरकार खेतों मे पुराली अथवा गन्ने की पत्ती के मुद्दे को लेकर किसानों का उत्पीड़न करने के लिए अामादा है

वहीं दूसरी ओर आवारा मवेशियों व जंगली जानवरों पर अंकुश लगाने में सरकार पूरी तरह नाकाम साबित हो रही है, जिसके चलते आवारा मवेशी तथा जंगली जानवर खेतों में घुसकर बडे़ पैमाने पर किसानो की फसलों को बर्बाद कर रहे हैं। उन्होंने सरकार से पुराली तथा गन्ने की पत्ती के  निस्तारण की वैकल्पिक व्यवस्था किये जाने की मांग की. इसके अलावा उन्होंने जंगली जानवरों के आबादी वाले इलाकों में आवागमन पर तत्काल अंकुश लगाने सहित आवारा मवेशियों को गौशाला के संरक्षण में रखने की व्यवस्था कर किसानों को समस्या से निजात दिलाने की मांग की। प्रशासन द्वारा एनजीटी व सरकार के आदेशों का हवाला देकर पुराली जलाने के नाम पर किसानों के उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए व्यापक पैमाने पर आंदोलन को चेताया। बैठक की अध्यक्षता ब्लाक अध्यक्ष दर्शन सिंह फौजी व संचालन राणा सिंह ने किया। इस अवसर पर गुरमीत सिंह,अमरीक सिंह,प्रदीप शर्मा, जस्सा सिंह, पुरुषोत्तम शर्मा, सुखदेव सिंह व अमरजीत सिंह आदि उपस्थित रहे।

No comments