Latest News

फाईलेरिया मुक्त अभियान को सफल बनाने का एनजीओ संचालको ने लिया संकल्प

25 नवम्बर से 10 दिसम्बर तक घर घर फाईलेरिया की खिलाई जायगी दवा

फतेहपुर, शमशाद खान । फाइलेरिया के रोग से जनपद को मुक्त कराये जाने के लिये स्वास्थ विभाग व पीसीआई संस्था द्वारा चलाये जा रहे फाइलेरिया मुक्त अभियान के तहत रविवार को अखिल भारतीय वैश्य एकता परिषद की महिला राष्ट्रीय अध्यक्ष कविता रस्तोगी के आवास में जागरूकता अभियान का आयोजन किया गया। जिसमें समाजसेवा के क्षेत्र में कार्य कर रहे एनजीओ द्वारा अभियान से जुड़कर जनपद को फाइलेरिया से मुक्त कराये जाने का संकल्प लिया गया। 
संकल्प लेते एनजीओ संचालक।  
पीसीआई एसएमसी शुभम रस्तोगी ने बताया कि फाइलेरिया मुक्त अभियान के तहत आईडीए 2019 के तहत 25 नवम्बर से 10 दिसम्बर 2019 तक जिले में स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा घर जाकर लोगो को फाइलेरिया की दवाइयां खिलाई जायेंगी। उन्होंने बताया कि आइवर मैकटींन, डीईसी व एल्बेंजाडॉल (आईडीए) जैसी दवाइयों का सेवन करने से मानव शरीर मे निवास करने वाले फाइलेरिया के बैक्टीरिया को समाप्त कर रोग से मुक्त पायी जा सकती है। उन्होंने फाईलेरिया मुक्त अभियान को सफल बनाने के लिये सभी समाजिक संगठनों व एनजीओ को मिलकर कार्य करने का आह्वान किया। एनजीओ संचालको द्वारा अभियान से जुड़कर लोगो में फाईलेरिया उन्मूलन के लिये जागरूकता फैलाने का संकल्प लिया गया। इस मौके पर सोच फॉउंडेशन से मधु साहू, अमर अटल फॉउंडेशन से अंजू त्रिपाठी, मानव मंगल सेवा संस्थान से संगीत द्विवेदी, अमर फॉउंडेशन से सौम्य सिंह, महिला सन्गठन वंदना द्विवेदी, दीनदयाल सेवा समिति से धर्मेंद्र सिंह जनसेवक व अंजू दीक्षित, विकास मंच से डा देवेंद्र, नहरू युवा केन्द्र से राजेन्द्र साहू, कान्हा कामधेनु उत्थान समिति से मनोरमा शुक्ला, सखी मानव सेवा संस्थान की अध्यक्ष नमिता सिंह, रोटी घर संचालक स्मिता सिंह, उड़ान संगठन से मोहिनी साहू आदि रही। सभी संगठनों के संचालको ने जनपद को फाईलेरिया जैसी गंभीर बीमारी से मुक्त कराये जाने के लिये संकल्प लेने के बाद अभियान को सफल बनायें जाने के लिये आम जनमानस से भी अभियान में जुड़ने का आह्वान किया गया।

No comments