हाईवे पर अधिग्रहित जमीन खाली कराने पहुंचा प्रशासन - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Advt.

Advt.

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Saturday, November 23, 2019

हाईवे पर अधिग्रहित जमीन खाली कराने पहुंचा प्रशासन

लोगों द्वारा रियायत मांगने पर 2 दिन का दिया अल्टीमेटम    
हाईवे चौड़ीकरण का चल रहा है कार्य   

फ़िरोज़ाबाद, विकास पालीवाल   । शिकोहाबाद  में  हाईवे पर  सड़क  चौड़ीकरण का काम चल रहा है। कुछ लोगों ने प्रशासन द्वारा अधिग्रहीत की गई जमीन को अभी तक खाली नहीं किया है।  आज शनिवार को  स्थानीय तहसील प्रशासन ने एनएचएआई के अधिकारियों के साथ मिलकर हाईवे पर एचकेएच होटल के निकट कुछ मकानों को ध्वस्त करने के लिए टीम पहुंची, क्योंकि प्रशासन का कहना था कि कई महीनों से यह लोग अधिग्रहित जमीन को
 

नहीं छोड़ रहे थे तथा जमीन खाली खाली नहीं कर रहे थे।  जबकि एनएचआई द्वारा उन्हें मुआवजा भी दिया जा चुका है । अतिरिक्त मुआवजे की मांग इनके द्वारा की जा रही थी। वही भूमि स्वामियों का कहना था कि उन्हें जमीन का मुआवजा नहीं दिया गया है जबकि केवल भवन निर्माण का ही पैसा मिला है। 
     आज शिकोहाबाद में हाइवे पर  प्रोफेसर कॉलोनी के सामने आज कुछ अधिकृत चिन्हित जमीन पर मकान व  जमीन को तोड़ने के लिए प्रशासन की टीम तहसीलदार सत्यप्रकाश सिंह के नेतृत्व में पहुंचे।दोपहर के वक्त


प्रशासनिक टीम एवं पुलिस फोर्स के साथ वहां पहुंची तथा भवन तोड़ना शुरू किया । जिन लोगों की जमीन खाली करनी है उनमें अशोक कुमार पाल, आदेश पाल पुत्रगण गयाप्रसाद, विद्या देवी, अभिनव कुमार , हरिनाम सिंह, भूमिराज पुत्र हजारीलाल हैं । पुलिस  के साथ पहुंची टीम को देखते ही लोगों में हड़कंप मच गया । इसके बाद प्रशासनिक टीम से इन लोगों ने पहले तो विरोध किया, बाद में कुछ समय मांगा । बताया जाता है कि  इनमें से कई लोगों ने कोर्ट में मामला डाल दिया है ।  वहीं  प्रशासनिक अधिकारियों एवं भूमि स्वामियों के बीच बात हुई । बाद में  प्रशासन ने इन लोगों को 2 दिन का अल्टीमेटम दिया है। वही तहसीलदार सत्यप्रकाश सिंह का कहना था कि उन्होंने 2 दिन का समय दिया है ।  2 दिन के अंदर यह लोग खुद  अपने मकानों को नहीं  तोड़ेंगे, तो प्रशासनिक टीम द्वारा  बुलडोजर से जमीन खाली कराई जाएगी ।  इस मौके पर तहसीलदार  के अलावा एनएचएआई के शिवाजी पांडे, लेखपाल , पवन कुमार शामिल रहे । 

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages