Latest News

मजबूरी नहीं श्रद्धा से करनी चाहिए भक्ति

बिजनौर (संजय सक्सेना)। जैन समाज के 108 मुनि श्री सौरभ सागर जी महाराज का अफजलगढ़ पहुंचने पर जैन समाज के लोगों ने स्वागत किया। बुधवार को नगर के मौहल्ला चिरंजीलाल स्थित जैन मंदिर में एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया. 

देहरादून से पैदल यात्रा करके अफजलगढ़ पहुंचे महाराज ने जैन समाज के लोगों को धर्म के प्रतीक जागरूक किया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए 108 मुनि श्री सौरभ सागर जी महाराज ने बताया कि जीवन में हमेशा मनुष्य अपने काम में व्यस्त रहते हैं। मनुष्य को अपने धर्म का ज्ञान होना चाहिए ज्ञान होने से कुछ सिखने को मिलती हैं। उन्होने कहा कि मनुष्य को भक्ति मजबूरी नहीं श्रद्धा से करनी चाहिए। वहीं उत्तराखंड के जयपुर, मध्यप्रदेश के ग्वालियर से आये श्रद्धालु भी उनके साथ मौजूद थे. इस अवसर पर जितेंद्र कुमार जैन, अतुल जैन, विपिन जैन, सौरभ जैन, विपुल जैन, सुनील जैन, निखिल जैन, अंकुर जैन तथा विनय जैन सहित जैन समाज की महिलाएं भी  उपस्थित रहे।

No comments