Latest News

न्यायालय के आदेश पर भारी पड़ रहा बिजली विभाग

अधिवक्ताओं ने जिलाधिकारी को सौंपकर कार्रवाई की मांग की 

बांदा, कृपाशंकर दुबे । बिजली विभाग मनमानी पर आमादा है। न्यायालय के आदेश की भी परवाह उसे नहीं है। एक अधिवक्ता की जमीन पर जबरन बिजली पोल गाड़कर लाइन खींचने का प्रयास किया जा रहा है। अधिवक्ता ने मना किया, लेकिन बिजली विभाग नहीं मान रहा। शुक्रवार को पीड़ित अधिवक्ता संघ के पदाधिकारियों के साथ जिलाधिकारी की ड्योढ़ी पर पहुंचा और ज्ञापन देकर मामले से अवगत कराते हुए कार्रवाई की मांग की है। अधिवक्ता संघ अध्यक्ष सुबीर सिंह आदि ने जिलाधिकारी को दिए गए ज्ञापन में बताया है कि उनके साथ अधिवक्ता संजय कुमार श्रीवास्तव के गाटा संख्या 1928 जो कनवारा में है, में बिजली विभाग के कर्मचारी व

जिलाधिकारी को ज्ञापन देने आए अधिवक्तागण 
अधिकारीगण जबरन गड्ढे खोदकर बिजली पोल गाड़कर लाइन बिछाने पर आमादा हैं। जबकि इस गाटा संख्या के संबंध में न्यायालय सिविल जज जूनियर डिवीजन के यहां से 29 अप्रैल 2008 को संजय कुमार श्रीवास्तव के हक में स्थाई निषेधाज्ञा का आदेश है। आदेश के तहत उक्त गाटा संख्या पर विद्युत विभाग न तो गड्ढे खोद सकता है और न ही पोल गाड़ सकता है। इसके साथ ही कब्जा दखल में किसी भी प्रकार का हस्तक्षेप न करने का उल्लेख है। इस आदेश के अनुपालन में वर्ष 2009 न्यायालय सिविल जज जूनियर डिवीजन के यहां मामला विचाराधीन है। बावजूद इसके जानकारी होने पर भी बिजली विभाग के अधिकारी न्यायालय के आदेश की अवमानना कर रहे हैं। अधिवक्ता संघ पदाधिकारियों ने जिलाधिकारी से इस संबंध में कार्रवाई किए जाने की मांग की है। ज्ञापन देते समय अधिवक्ता संघ के तमाम पदाधिकारी मौजूद रहे। 

No comments