Latest News

बिजली कर्मचारियों का कार्य बहिष्कार आज से

48 घंटे तक नहीं करेंगे काम, पीएफ घोटाले को लेकर नाराजगी 

बांदा, कृपाशंकर दुबे । उत्तर प्रदेश पावर कारपोरेशन में हुये भारी भविष्य निधि राशि के घोटाले के विरोध में पूरे उत्तर प्रदेश में विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति उत्तर प्रदेश के आहवान पर समस्त बिजली अभियन्ता, अधिकारी एवं रेगुलर एवं संविदा कर्मचारी आन्दोलनरत है। विगत पांच नवम्बर से लगातार आन्दोलन जारी है। पूरे प्रदेश के कर्मचारियों ने पिछडली 14 नवम्बर को लखनऊ में आन्दोलन किया था। उसी क्रम में केन्द्रीय आहवान पर जिले के समस्त अभियन्ता, रेगुलर एवं संविदा कर्मचारी 18 नवम्बर से 19 नवम्बर तक 48 घंटे कार्य बहिष्कर करेंगे।
नारेबाजी करते बिजली कर्मचारी 
उत्तर प्रदेश बिजली कर्मचारी संघ के जोनल मंत्री आनन्द कुमार पाल ने बताया कि पूरे प्रदेश में समस्त बिजली कार्मिक अपने भविष्य निधि राशि एवं संविदा कार्मिक ईपीएफ हेतु जोरदार आन्दोलन करेंगे। मोहन राजपूत खण्डीय अध्यक्ष ने बताया कि जिले के समस्त अभियन्ताओं एवं कर्मचारियों की उपस्थिति अनिवार्य है। कार्यक्रम पीली कोठी कार्यालय परिसर में आयोजित किया जायेगा। खण्डीय मंत्री अमरेश पाल ने बताया कि यदि उत्तर प्रदेश ने बिजली कर्मचारियों के भविष्य निधि राशि एवं संविदा कर्मचारियों के ईपीएफ तथा समस्त उर्जा निगमों के एकीकरण के साथ ही साथ संविदा कर्मियों को विभाग में तेलांगना सरकार की ही भांति समायोजित करने के लिये ठोस निर्णय ले। यदि कार्यवाही नही करती है तो समस्त बिजली अभियन्ता एवं रेगुलर व संविदा कर्मचारी व्यापक आन्दोलन करेंगे। बैठक में जितेन्द्र कुमार, सुमित कुमार, अरसद, कमाल अहमद, प्रकाश, सुरेश सिंह, अजेश, कल्लू, हरिलाल, विष्णुदत्त, अनिल पाठक, अजय सविता, हिमांशु यादव, अतुल कुमार, पवन कुमार, श्यामबहादुर, राकेश साहू आदि शामिल हुये।

No comments