Latest News

मिशन इंद्रधनुष अभियान दो दिसंबर से शुरू होगा

अभियान को चार चरणों में किया जाएगा संचालित 

बांदा, कृपाशंकर दुबे । आगामी दो दिसंबर से बीमारियों से बचाव के लिए संपूर्ण टीकाकरण अभियान शुरू होगा। टीकाकरण से वंचित शून्य से दो वर्ष के सभी बच्चों का टीकाकरण किया जाएगा। यह अभियान चार चरणों में चलाया जाएगा। शासन स्तर से टीकरण अभियान के लिए निर्देश जारी किए जा चुके हैं।
जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा.बीपी वर्मा ने बताया कि मिशन इन्द्रधनुष का उद्देश्य वर्ष 2020 तक देश के सभी वंचित और  छूटे हुये बच्चों का संपूर्ण टीकाकरण सुनिश्चित करना है। सर्वे के अनुसार जनपद के पांच ब्लाक नरैनी, कमासिन, तिंदवारी, महुआ और बिसंडा में 90 प्रतिशत से कम टीकाकरण हुआ है। अभियान की शुरूआत 2 दिसंबर से होगी। टीकाकरण अभियान चार चरणों में दिसंबर से मार्च 2020 तक चलेगा। प्रत्येक माह

के पहले सोमवार से अभियान शुरू होकर कार्य दिवस तक चलेगा।  बुधवार, शनिवार, रविवार सरकारी अवकाश शामिल नहीं होंगे। जिला और ब्लॉक स्तर पर अभियान के तहत तैयारी की जा रही है। आशा कार्यकर्ताओं ने घर-घर जाकर शून्य से दो  वर्ष तक के लेफ्ट-आउट और ड्राप-आउट बच्चों तथा गर्भवती महिलाओं का सर्वे किया है। सर्वे के अनुसार 4638 बच्चे व 1419 गर्भवती महिलाएं चिन्हित की गई हैं। 

नौ बीमारियों से बचाएंगे टीके 
बांदा। टीकाकरण अभियान में सहभागी संस्था विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के सर्विलांस मेडिकल आफीसर डा. संतोष गुप्ता ने बताया कि मिशन इन्द्रधनुष के तहत शून्य से दो  वर्ष के बच्चों को बीमारियों से बचाव के टीके लगाए जाएंगे। इसमें टीबी, हेपेटाइटिस बी, पोलियो, डिप्थीरिया, काली खांसी, टिटनेस, मीजल्स एंड रुबेला तथा हीमोफिलिस इन्फ्लुएंजा बी, एचआईवी शामिल हैं। स्वास्थ्य विभाग के साथ विश्व स्वास्थ्य संगठन, यूएनडीपी और यूनिसेफ की टीमें भी जनपद के चिन्हित ब्लॉकों में मिशन इन्द्रधनुष में सहयोग करेंगी। सर्वे के दौरान टीकाकरण से वंचित, आंशिक टीकाकरण व टीकाकरण न कराने वाले परिवारों का पता लगाकर उनकी काउन्सलिंग की जाएगी। साथ ही टीकाकरण कराने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा। 

No comments