Latest News

कर्म क्षेत्र में आये हो तो अच्छा कर्म करोः पं. सर्वेश

जालौन (उरई), अजय मिश्रा । सेंगर कॉलोनी रावतान मोहल्ला में चल रही श्रीमद् भागवत के चतुर्थ दिवस में पंडित सर्वेश कुमार दीक्षित ने श्रोताओं को बतलाया की भजन करने के लिए उम्र की जरूरत नहीं है क्योंकि भजन बालापन में ही किया जाता है बुढ़ापे पर भजन नहीं होता है जैसे कि बुढ़ापे में तृष्णा बढ़ जाती है इसीलिए छोटी उम्र से ही भजन करना चाहिए क्योंकि ध्रुव जी महाराज ने बचपन में ही भजन से भगवान को प्राप्त कर लिया इस कथा को सुनकर श्रोता भाव विभोर हो उठे। 
सर्वेश शास्त्री ने श्रोताओं को नर्सों की कथा सुनाई और बताया कि इस मृत्युलोक में स्वर्ग भी है और नरक भी है जो जैसा करता है उसे वैसा ही फल प्राप्त होता है इसीलिए इस कर्म क्षेत्र में आए हो तो अच्छा कर्म करो बताया कि बेटी का धन कभी नहीं खाना चाहिए जो बेटी का धन खाते हैं उन्हें नर्क में जाना पड़ता है। अंत में परम पूज्य व्यास जी ने श्रोताओं को भक्त प्रहलाद जी की कथा सुनाई और बताया कि आज भी कलयुग में नरसिंह भगवान प्रत्येक खंबे में विराजमान है लेकिन कोई भी प्रहलाद जैसा पुत्र नहीं है अगर प्रहलाद जैसा पुत्र पैदा हो जाए तो आज भी नरसिंह भगवान प्रगट हो जाएंगे इस कथा को सुनकर के श्रोताओं के अश्रु निकल आए जिसमें बद्री निरंजन बिंदे निरंजन नीलेश सोनू सिकरवार महिला मोर्चा महामंत्री सहित बड़ी संख्या में श्रोता विराजमान थे।

No comments