Latest News

दूसरे दिन भी हड़ताल पर रहे विद्युत अभियन्ता व कर्मी

फतेहपुर, शमशाद खान । ऊर्जा क्षेत्र के अवर अभियन्ताओं/अभियन्ताओं एवं अन्य कार्मिको के भविष्य निधि के असुरक्षित निवेश के कारण उत्पन्न संकट के कारण विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति के बैनर तले अभियन्ता व कर्मी अधीक्षण अभियन्ता कार्यालय पर दूसरे दिन भी कार्य बहिष्कार में डटे रहे। कर्मचारियों की मांग रही कि असुरक्षित निवेश को रोका जाये। 
हड़ताल पर बैठे अधिकारियों व कर्मचारियों ने प्रदेश सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। हड़ताल को सम्बोधित करते हुए वक्ताओं ने कहा कि अवर अभियन्ताओं/अभियन्ताओं एवं अन्य कार्मिकों के भविष्य निधि का पैसा उत्तर प्रदेश पावर कारपोरेशन द्वारा असुरक्षित निवेश कर दिया गया है। जिससे स्थिति संकटपूर्ण हो गयी है।
 
कार्य बहिष्कार पर डटे अभियन्ता व कर्मी।  
यदि यह पैसा डूब गया तो कार्मिकों का भविष्य क्या होगा। कार्मिकों की भविष्य निधि के इस घोटाले में फंस जाने से बेहद चिन्ता उत्पन्न हो गयी है। कार्मिकों ने मांग किया कि उत्तर प्रदेश ऊर्जा निगम में कार्यरत कार्मिकों के जीपीएफ एवं सीपीएफ ट्रस्ट में धनराषि की गयी कटौती के विरूद्ध उनके देयक राशि की सुरक्षा की गारंटी प्रदान किये जाने हेतु राजाज्ञा पत्र जारी किया जाये। ट्रस्ट का संचालन नियमों के विपरीत किये जाने, ट्रस्ट के नियमों की अनदेखी कर भ्रष्टाचार की मंशा से कर्मचारियों की गाढ़ी कमाई के अंश के साथ खिलवाड़ कर मनमाने तरीके से विधि विरूद्ध मानकों के विपरीत निजी बैंकों में धन निवेश किये जाने के गम्भीर आर्थिक अपराध के कृत्य के प्रमुख जिम्मेदार शीर्षस्थ अधिकारी ट्रस्ट के चेयरमैन एवं अन्य ट्रस्टी सदस्यों को उनके पदों से तत्काल निलम्बित कर पारदर्शी जांच की जाये। ट्रस्ट के पारदर्शी संचालन हेतु ट्रस्ट के नियमों के तहत साफ-सुथरा बोर्ड आफ ट्रस्ट का पुनर्गठन किया जाये। इसके अलावा अन्य मांगे भी शामिल हैं। इस मौके पर नरेन्द्र नाथ, रवि कुमार, प्रशांत शुक्ला, पवन सिंह, विवेक मौर्या, आरएन यादव, धीरेन्द्र यादव, मुकेश गौतम, अभिनव मौर्या, शिव बाबू, पीसी भारती आदि मौजूद रहे। 

No comments