Latest News

गैर हाजिर अधिकारी का जवाब-तलब, वेतन रोका डीएम ने

हमीरपुर, महेश अवस्थी । बांट माप निरीक्षक के पिछले बैठकों से लगातार गैर हाजिर रहने अपने कार्यों और दायित्वों का सही ढंग से निर्वाहन न करने पर जिलाधिकारी ने बांट माप निरीक्षक को विशेष प्रतिकूल प्रविष्ठि देते हुये अगले आदेशों तक वेतन रोकने के और स्पष्टीकरण प्राप्त करने के निर्देश दिये है। वे कलाम सभागार कक्ष में उद्योग एवं व्यापारी बन्धुओं की बैठक में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि उद्योग बन्धुओं और व्यापारी बन्धुओं की बैठक महत्वपूर्ण होती है। इसमें सभी अधिकारियों को अनिवार्य रूप से भाग लेना चाहिये। किसी भी प्रकार की शिथिलता बर्दाश्त नहीं की जायेगी। यूपीएसआईडीसी विभाग से बैठक में किसी के भाग न लेने पर जिलाधिकारी ने एमडी को पत्र लिखकर सम्बन्धित के खिलाफ कार्यवाही के निर्देश दिये हैं। मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना,

ओडीओपी, मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना व अन्य उद्यमों से सम्बन्धित योजनाओं में धीमी प्रगति पर नाराजगी जताई। उन्होंने कहा कि उद्योग विभाग की हर दस दिन में समीक्षा की जाये। वन डिस्टिक, वन प्रोटक्ट के अंतर्गत उद्यमियों को प्राथमिकता पर ऋण दिलाया जाये। ओडीओपी के प्रभारी प्रचार-प्रसार के लिये प्रत्येक तहसील दिवस में स्टाल लगाया जाये। उन्होंने कहा कि सुमेरपुर में नगर पंचायत और एसडीएम द्वारा अतिक्रमण हटवाया जाये। उद्योग स्थापित करने के लिये प्लाट जिन्हें आवंटित किये गये थे उनमें डेढ़ वर्ष में उत्पादन शुरू नहीं किया गया तो उस प्लाट का आवंटन निरस्त करके नये उद्यमी को प्राथमिकता दी जाये। छोटे-बड़े सभी व्यापारी जीएसटी में पंजीयन करायें। लघु व्यापारी मानधन योजना में डेढ़ करोड़ से कम टर्न ओवर वाले व्यवसाईयों का पंजीकरण कराया जाये। इसमें 18 से 40 वर्ष के आयु के व्यापारी भाग ले सकते हैं। 60 वर्ष की अवधि पूरी होने पर उन्हें 03 हजार रुपया प्रतिमाह पेंशन दी जायेगी। मजदूरों का अधिक से अधिक पंजीकरण कराने के लिये तहसील दिवस में कैम्प लगाये जायें। पुलिस अधीक्षक श्लोक कुमार ने कहा कि यदि कोई व्यक्ति मनोरजन कर के नाम पर छोटे-बड़े दुकानदारों को धमकाता है, रूपये लेता है तो उसकी सूचना तत्काल उन्हें दें।

No comments