Latest News

तीन दिन में चालू करायें नहर: डीएम

किसान दिवस में समस्यायें सुन तत्काल निदान के दिए निर्देश

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। जिलाधिकारी शेषमणि पाण्डेय की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में किसान दिवस का आयोजन किया गया।
जिलाधिकारी ने कहा कि पूर्व की बैठकों में किसान यूनियन के सदस्यों ने अन्ना प्रथा में सहयोग करने की बात कही थी, लेकिन प्रयास नहीं किया गया। प्रदेश में सबसे अधिक जनपद में अन्ना गोवंश गोशालाओं में बंद हैं। जिनका भरण-पोषण ग्राम प्रधानों द्वारा किया जा रहा है। जिले में अन्ना पशुओं को बंद किया गया है। तभी फसलें बच रही हैं। जब तक ग्राम स्तर पर सहयोग नहीं करेंगे तो इस समस्या से निजात नहीं मिलेगी। यहां के ही लोग इस कुप्रथा को शुरू किया है। लोग दूध निकालकर गोवंशों को छोड़ देते हैं। गाय के रोम-रोम में भगवान का वास होता है। किसानों से अपील किया कि सेवा करें। गोसेवा गोविन्द सेवा है। जनपद स्तरीय अधिकारियों से कहा कि एक-एक गौशालाओं को गोद लें और वहां पर जो समस्याएं है उसका निराकरण करायें। किसान

यूनियन के लोग भी गांव में भ्रमण कर जहां पर गौवंश की समस्या है उनके भरण-पोषण की व्यवस्थाएं करायें। पशु नस्ल सुधार से किसान संवर्द्धन व संरक्षण कर सकते हैं। उप निदेशक कृषि व मुख्य पशु चिकित्साधिकारी को निर्देश दिये कि किसानों को सभी योजनाओं की जानकारी दें। विद्युत कनेक्शन पर पहले आओ पहले पाओं की व्यवस्था है। अधिशाषी अभियंता विद्युत को निर्देश दिये कि सूची में कोई हेराफेरी नहीं होना चाहिए। किसानों के बिल जमा करने को अलग से काउन्टर बनाया जाये। किसानों ने सोलर पम्प का सामान अभी तक न मिलने की समस्या पर उप निदेशक कृषि ने बताया कि दस दिन के अंदर पूरा सामान उपलबध करा दिया जायेगा। जिलाधिकारी ने मुख्य पशु चिकित्साधिकारी को निर्देश दिये कि सभी खण्ड विकास अधिकारियों को एक पत्र भेजा जाये कि कोई भी गौवंश टैग लगा या अन्य सड़कों पर घूमते हुए न पाये जायें। अधिशाषी अभियंता सिंचाई को निर्देश दिये कि तीन दिन के अंदर नहरों का संचालन करायें। सिल्ट सफाई का कार्य भी तेजी से करा लिया जाये। किसानों को कोई समस्या न हो। बैठक में सभी अधिकारियों ने अपने-अपने विभागीय योजनाओं के बारे में विस्तार से जानकारी दी। बैठक में प्रभागीय वनाधिकारी कैलाश प्रकाश, जिला विकास अधिकारी आरके त्रिपाठी, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डा केपी यादव, पुलिस क्षेत्राधिकारी नगर रजनीश यादव, जिला कृषि अधिकारी बसंत कुमार दुबे सहित संबंधित अधिकारी व किसान मौजूद रहे।

No comments