Latest News

योग करेगा मानसिक रोग दूर करने में मदद

जसपुरा में वृहद मानसिक एवं योग शिविर का हुआ आयोजन   
स्वास्थ्य परीक्षण के साथ लोगों ने सीखी योग मुद्राएं 

बांदा, कृपाशंकर दुबे । योग तन और मन दोनों को स्वस्थ व संतुलित रखने में मदद करता है। जीवनशैली सम्बंधित अधिकतर रोगों, यहाँ तक कि कई गंभीर बीमारियों में भी योग प्रभावी उपचार प्रदान करता है। खासकर यदि मानसिक रोगों में योग का निरंतर अभ्यास किया जाए, तो इसके बेहतरीन परिणाम देखने को मिल सकते हैं। इसीलिए आज मंगलवार को जसपुरा ब्लॉक के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में वृहद मानसिक एवं योग संयुक्त शिविर का आयोजन किया गया जिसमें लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण करने के साथ-साथ मानसिक रोगों के इलाज में प्रभावी योग के बारे में भी बताया गया।
शिविर में मौजूद मरीज और उपचार करते चिकित्सक 
जिलाधिकारी हीरालाल के निर्देशानुसार आयोजित इस शिविर का उद्घाटन ब्लाक प्रमुख जीतेन्द्र सिंह व प्रधान तोप सिंह द्वारा किया गया। शिविर में दस डाक्टरों के पैनल ने आये हुए लोगों की जांच की। इन डाक्टरों में सामान्य डाक्टर और मानसिक रोग विशेषज्ञों के साथ-साथ आरबीएसके टीम के डोक्टरों ने भी मरीजों का स्वास्थ्य परीक्षण किया। शिविर में 350 से अधिक लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण कर निशुल्क दवाएं भी वितरित की गई। वहीं योगाचार्य कैलाश चन्द्र द्विवेदी ने मानसिक रोगों को ठीक करने के लिए योग के विषय में लोगों को जानकारी दी। साथ ही शिविर में आए मानसिक रोगों के लक्षणों से ग्रसित लोगों को प्राणायाम, ध्यान, अनुलोम-विलोम, कपालभाति सहित अन्य योग मुद्राएँ भी सिखाई जो विशेष रूप से मानसिक रोगों से निजात दिलाने में प्रभावकारी हैं।  

अब से हर मानसिक स्वास्थ्य शिविर में लोग सीखेंगे योग 
बांदा। राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम के नोडल अधिकारी डा. एम सी पाल ने जानकारी दी कि बदलती जीवनशैली और बढ़ते तनाव के कारण मानसिक रोगियों की संख्या में वृद्धि देखने को मिली है। मानसिक रोग के बढ़ने से आत्महत्या की प्रवत्ति में भी वृद्धि हुई है। योग को अपनी दिनचर्या का हिस्सा बनाकर लोग मानसिक तनाव को दूर कर मन को संतुलित रख सकते हैं। इसलिए जिलाधिकारी हीरालाल के निर्देश पर अब से हर मानसिक स्वास्थ्य शिविर के साथ योग शिविर का भी आयोजन किया जाएगा जिसमें विशेष रूप से मानसिक रोगों में कारगार योग मुद्राओं के बारे में लोगों को जानकारी और प्रशिक्षण दिया जाएगा। पूरे जिले में प्रचार-प्रसार के माध्यम से लोगों को इसके बारे में जागरुक किया जाएगा। उनहोंने बताया कि इसके लिए समस्त स्वास्थ्य अधिकारियों को भी योग की ट्रेनिंग दी जाएगी जिसकी शुरुआत जल्द ही जिला अस्पताल से की जाएगी।    

No comments