अन्ना मवेशियों के संरक्षण कार्य में न हो लापरवाही: डीएम - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Advt.

Advt.

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Thursday, November 21, 2019

अन्ना मवेशियों के संरक्षण कार्य में न हो लापरवाही: डीएम

जो प्रधान और सचिव कार्य न करें, उस पर बनाया जाए कार्रवाई का प्रस्ताव 
प्रधानों के अधिकार सीज करने की डीएम ने दी चेतावनी 

बांदा, कृपाशंकर दुबे । गौवंश को संरक्षित करने हेतु जिलाधिकारी श्री हीरा लाल की अध्यक्षता में कैम्प कार्यालय में अन्नाप्रथा की बैठक सम्पन्न हुई। उन्होंने सभी बी0डी0ओ0 को निर्देशित करते हुए कहा कि अन्ना पशुओं को संरक्षित करने या विकास कार्यों को करने में सहयोग न करने पर जनपद के समस्त सचिव एवं ग्राम प्रधानों के विरूद्ध कार्यवाही हेतु प्रस्ताव उपलब्ध करायें जिससे नियमानुसार दण्डात्मक कार्यवाही की जा सके। उन्होंने कहा कि जो भी प्रधान कार्य करने में असमर्थता जताता हो और मानक के अनरूप गाॅव का विकास न करे उन सभी के अधिकार उच्चाधिकारी से अनुमति लेकर सीज कर दिए जायें। इसके बाद रिपोर्टिंग जिला प्रशासन को की जाए।
बैठक लेते डीएम
उन्होंने मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि रणनीति के तहत कार्ययोजना बनाकर कर्मचारी वाइज अवगत कराया जाए और अन्ना पशुओं की टैगिंग, वैक्सनेशन, कान्सटेªक्शन शत्-प्रतिशत सचिव एवं प्रधानों का सहयोग लेकर कराया जाना सुनिश्चित किया जाए यदि कोई असहयोग की भावना रखता हो तो उसकी रिपोर्टिंग जिला प्रशासन को की जाए जिससे उसके खिलाफ कार्यवाही की जा सके। उन्होंने कहा कि एक गाय डेयरी की सप्ताहिक बैठक की जाए और सभी वेटनरी अफसर ग्रामीणों का भ्रमण करें जनता से कनेक्टीविटी बढायें और 24 गाॅवों में बर्मी कम्पोस्ट खाद बनाने की कार्यवाही करना सुनिश्चित करें। गाॅव स्तर पर एक माॅडल 3 दिनों के अन्दर बनाया जाना सुनिश्चित करें जिससे किसानों को गोबर का सही लाभ प्राप्त हो सके और गाय को कैसे उपयोगी बनाया जाए इस विषय में भी विचार मंथन किया जाए।
जिलाधिकारी ने समस्त अधिशासी अभियन्ता सफाई को निर्देशित करते हुए कहा कि विज्ञान शुक्ला से सम्पर्क कर गाय के गोबर को कैसे उपयोगी बनायें और बर्मी कम्पोस्ट कैसे बनाया जाए इस विषय में विचार-विमर्श किया जाए। उन्होंने कहा कि गाय केवल दूध के लिए उपयोगी नही है बल्कि अनेको प्रकार से गाय के गोबर, गौमूत्र से फिनायल, औषधि इसी तरह अनेको प्रकार के लाभ प्राप्त किये जा सकते है। उन्होंने सभी जिला स्तरीय अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि सभी लोग गौमूत्र का सेवन करें इससे अनेको प्रकार की बीमारियों को दूर किया जा सकता है जिससे स्वस्थ्य जीवन जिया जा सकता है। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारियों को प्रधान सेवक बनकर कार्य करना है अफसर शाही न करें और मेरिट को प्रमोट करें जिससे सही व्यक्ति का विकास हो सके। बैठक में डी0आर0डी0ए0 मनरेगा पी0डी0 आर0पी0मिश्रा, उप जिलाधिकारी पैलानी मंसूर अहमद, जिला पंचायत राज अधिकारी संजय यादव सहित बी0डी0ओ0 एवं सम्बन्धित विभाग के अधिकारी उपस्थित रहे।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages