Latest News

साठ दिनों से बूंद-बूंद से जूझ रहे कुसमिलिया के वाशिंदे

सीएम से लेकर डीएम तक लगायी गुहार
छह की आबादी रात्रि जागरण कर पानी भरने को विवश

कुसमिलिया (जालौन), अजय मिश्रा । डकोर विकास खंड के कुसमिलिया गांव में बनी पानी की टंकी के नलकूप की मोटर फुंक गई। इससे गांव में एक माह से पेयजल की आपूर्ति बंद है। करीब छह हजार की आबादी पानी के लिए परेशान हो रही है। ग्रामीणों ने जल्द ही मोटर ठीक कराए जाने की मांग की है।
डकोर क्षेत्र के ग्राम कुसमिलिया में बनी पानी की टंकी सफेद हाथी साबित हो रही है। एक माह से नलकूप की मोटर फुंकी हुई है। जिसकी ग्रामीणों द्वारा लगातार उच्चधिकारियों से शिकायत की जा रही है। मगर आज तक न तो फुकी मोटर को ठीक किया गया और न ही किसी अधिकारी द्वारा मौके पर हालात को देखा गया। ग्रामीणों को
पेयजल के लिए कुँओं का सहारा लेना पड़ रहा है। बनी है। गांव की आबादी करीब छह हजार है। इस समय नलकूप की मोटर फुंकी पड़ी है इसके चलते पानी की टंकी से आपूर्ति नहीं हो पा रही है। इलाकाई लोग पानी को लेकर खासे परेशान हो रहे हैं। जबकि इस समय मौसम भी बदल रहा है। इसके बाद भी फुंके हुए नलकूप की मोटर को बदलवाने के लिए पहल नहीं हो रही है। इससे ग्रामीणों को इधर उधर से पानी लाना पड़ रहा है। ग्रामीणों में  बीरेंद्र राजपूत, दिवाकर राजपूत, केके राजपूत, पवन राजपूत, दीपू, घनश्याम, रमाकांत, संदीप, अनिल कुमार, दीपक आदि का कहना है कि गांव में बनी पानी की टंकी से पेयजल की आपूर्ति होती थी। लेकिन एक माह से आपूर्ति बंद है। साथ ही जगह जगह पाइप लाइन से ही लीकेज है, जिसकी मरम्मत अभी तक नहीं हुई है। पाइप लाइन लीकेज होने से पेयजल की आपूति नही हो पाती है।  गांव में लगे हैंडपंपों भी अधिकतर खराब पड़े हुए। लोगो को रात रात भर जागकर पेयजल की व्यवस्था करनी पड़ती है। जिससे पानी की किल्लत लगातार बढ़ती जा रही है।

पोर्टल के माध्यम से मुख्यमंत्री से भी की गई शिकायत
कुसमिलिया। एक माह पूर्व ग्रामीणों ने मुख्यमंत्री जनसुनवाई पोर्टल और 1073 के माध्यम से भी शिकायत दर्ज करवाई थी। जिसकी जांच खण्ड विकास अधिकारी को दी गई थी। इसके बाद भी अभी तक पेयजल आपूर्ति बहाल नही की जा सकी। हैरानी की बात तो यह है कि उक्त मामले की शिकायत जिलाधिकारी से भी की गयी लेकिन अभी तक समस्या जस की तस बनी हुयी है।

क्या कहते हैं जिम्मेदार
कुसमिलिया। बीडीओ डकोर सुदामा शरण का कहना था कि ग्राम कुसमिलिया के नलकूप की फूंकी मोटर को 16 तारीख को ही दुरुस्त करवा दी गई है। जिसकी सूचना जलनिगम के जेई द्वारा हमें दी गई थी। इसके बाद भी अगर अभी तक पेयजल की आपूर्ति नहीं हो रही तो वह सोमवार को स्वयं जाकर देखंेगे।

No comments