Latest News

युवक मुंह से करता है, मछलियो का शिकार

हमीरपुर, महेश अवस्थी । एक युवक न तो जाल लगाता है न कांटा फेंकता है सीधे नदी में कूदकर मछली पकड़ता है। 15 मिनट में 15 मछलियां पकड़करके बाहर फेंक देता है। यह युवक मेरापुर का सुघर निषाद उर्म 24 वर्ष का है। उसके


लिये यह काम चुटकियों का खेल है। अपने हर गोते में दोनों हांथ और मुंह में ऐसे तीन जिन्दा मछलियां दबाकर बाहर निकालकर लाता है। इसकी कला को देखकर हर कोई हैरान है। नदी किसी हिस्से विशेष में नहीं, बल्कि किसी भी स्थान पर सुघर छलांग लगाकर सुघर मछलियां पकड़ता है। ऐसा वह बचपन से करता चला आ रहा है। दरअसल नदी के अन्दर पत्थरों के बीच में मछलियां छिपी रहती हैं। इसके लिये लम्बा गोता लगाना पड़ता है।

काफी देरतक सांस रोकर नदी की गहरायी में मछलियों को पकड़ने के लिये चैकन्ना रहना पड़ता है। तभी मछलियां हांथ आती हैं। उस समय यह भी ध्यान रखना पड़ता है कि कोई मछली कांटा न मार दे। सुघर रोजाना इसी तरह से मछलियां तो पकड़ता है पर उसे दोस्तों व रिश्तेदारों में बांट देता है। जब वह नदी से मछली निकालता है तो भीड़ लग जाती है।

No comments